सरकार किसानों को देगी लागत का 50 प्रतिशत मुनाफा, जानिए फ़सलों के नए समर्थन मूल्य

0
1266
views

सरकार किसानों को देगी लागत का 50 प्रतिशत मुनाफा

केंद्र सरकार ने प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी किसानों के रबी फसल के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी कर दिया है | यह न्यूनतम समर्थन मूल्य वर्ष 2018 – 19 के लिए है | प्रत्येक वर्ष केंद्र सरकार देश के किसानों के लिए 23 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी करती है , उसी कड़ी का हिस्सा है | केंद्रीय कृषि मंत्री श्री राधामोहन सिंह ने रबी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी करते हुये कहा की केंद्र सरकार अपने वादे के अनुसार किसानों के लागत का 50 प्रतिशत मुनाफा दिया है |

कुछ फसलों पर तो 100 प्रतिशत से ज्यादा मुनाफा दिया है | केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा की किसानों को लागत का 50 प्रतिशत मुनाफा प्रधान मंत्री के उस योजना को ध्यान में रखते हुये किया गया है जिसमें वर्ष 2022 में किसानों की आय दुगना करने की बात किया गया था |

सरकार के द्वारा किये गए दावों पर गौर किया जाए तो यह मालूम चलता है की गेंहू की न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रति किवंटल 105 रु., कुसुम की न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रति किवंटल 845 रु. जो की MSP में प्रति किवंटल 30 रु., मसूर की MSP में प्रति किवंटल 225 रूपये, चने की MSP में प्रति किवंटल 220 रुपया तथा रेपसीड एवं सरसों की MSP में प्रति किवंटल 200 रूपये की वृद्धि की गई है जो इस दिशा में एक और प्रमुख कदम है |

यह भी पढ़ें   इन जगहों पर तेज आंधी के साथ ओले एवं बारिश होने की सम्भावना है

अलग – अलग फसलों के में अलग – अलग न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि

  • गेहूं, जौ, चना, मसूर, रेपसीड एवं सरसों और कुसुम के लिए सरकार द्वारा तय की गई एमएसपी उत्पादन लागत के मुकाबले काफी अधिक है।
  • गेहूं की उत्पादन लागत 866 रुपये प्रति क्विंटल और एमएसपी 1840 रुपये प्रति क्विंटल है, जो उत्पादन लागत की तुलना में 112.5 प्रतिशत का रिटर्न देती है।
  • जौ की उत्पादन लागत 860 रुपये प्रति क्विंटल और एमएसपी 1440 रुपये प्रति क्विंटल है, जो 67.4 प्रतिशत का रिटर्न देती है।
  • चने की उत्पादन लागत 2637 रुपये प्रति क्विंटल और एमएसपी 4620 रुपये प्रति क्विंटल है, जो 75.2 प्रतिशत का रिटर्न सुनिश्चित करती है।
  • मसूर की उत्पादन लागत 2532 रुपये प्रति क्विंटल और एमएसपी 4475 रुपये प्रति क्विंटल है, जो 76.7 प्रतिशत का रिटर्न देती है।
  • रेपसीड एवं सरसों की उत्पादन लागत 2212 रुपये प्रति क्विंटल और एमएसपी 4200 रुपये प्रति क्विंटल है, जो 89.9 प्रतिशत का रिटर्न सुनिश्चित करती है।
  • कुसुम की उत्पादन लागत 3294 रुपये प्रति क्विंटल और एमएसपी 4945 रुपये प्रति क्विंटल है, जो 50.1 प्रतिशत का रिटर्न देती है।
यह भी पढ़ें   50 प्रतिशत बिना चमक के गेहूं भी समर्थन मूल्य पर ख़रीदे जाएंगे
2019-20 सीजन में विपणन की जाने वाली 2018-19 सीजन की सभी रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्यों का उल्लेख नीचे किया गया हैः
फसल
एमएसपी 2017-18
(रुपये प्रति क्विंटल)
एमएसपी 2018-19
(रुपये प्रति क्विंटल)
उत्पादन लागत
2018-19
(रुपये प्रति क्विंटल)
एमएसपी में वृद्धि
लागत* की तुलना में रिटर्न
(प्रतिशत में)
शुद्ध अंतर
%
गेहूं 1735 1840 866 105 6.1 112.5
जौ 1410 1440 860 30 2.1 67.4
चना 4400 4620 2637 220 5.0 75.2
मसूर 4250 4475 2532 225 5.3 76.7
रेपसीड एवं सरसों 4000 4200 2212 200 5.0 89.9
कुसुम 4100 4945 3294 845 20.6 50.1

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here