back to top
28.6 C
Bhopal
मंगलवार, जुलाई 16, 2024
होमकिसान समाचारछत्तीसगढ़ सरकार ने पेश किया बजट, किसानों को मिली यह सौगातें

छत्तीसगढ़ सरकार ने पेश किया बजट, किसानों को मिली यह सौगातें

कृषि बजट छत्तीसगढ़ 2023-24

छत्तीसगढ़ सरकार ने वित्त वर्ष 2023–24 के लिए अपना बजट पेश कर दिया है, राज्य के मुख्य मंत्री श्री भूपेश बघेल ने 6 मार्च के दिन विधान सभा में पेश किया। सरकार ने इस वर्ष राज्य के लिए 1 लाख 21 हजार 500 करोड़ का बजट प्रस्ताव रखा है जो पिछले वर्ष के मुकाबले 17,000 करोड़ रूपये अधिक है। इसमें कृषि के विभिन्न योजनाओं के लिए 10,070 करोड़ रूपये की बजट का प्रस्ताव रखा गया है।

हालाँकि सरकार ने इस वित्त वर्ष में किसानों के लिए किसी नई बड़ी योजना की घोषणा नहीं की है परंतु पहले से चली आ रही योजनाओं के बजट में बढ़ोतरी की है। सरकार ने राज्य को “धन का कटोरा” बनाने हेतु राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए 6,800 करोड़ का प्रावधान किया है।

कृषि एवं ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए बजट में की गई मुख्य घोषणाएँ

  • सरकार ने अपने बजट में किसानों को गुणवत्तायुक्त रासायनिक एवं जैविक खाद की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए राजनांदगांव एवं रायगढ़ जिले में नवीन उर्वरक गुण नियंत्रण प्रयोगशाला की स्थापना जायगी। वहीं रासायनिक एवं जैविक कीटनाशकों के गुणवत्ता परीक्षण हेतु रायपुर में नवीन कीटनाशक प्रयोगशाला की स्थापना की जाएगी।
  • उद्यानिकी से संबंधित आधुनिक तकनीकों को अपनाने हेतु नवा रायपुर में सेंटर ऑफ एक्सीलेन्स की स्थापना हेतु 2 करोड़ 51 लाख का प्रावधान किया गया है।
  • विकासखंड मुख्यालय गंडई में कृषकों को उद्यानिकी फसलों की गुणवत्तापूर्ण पौध रोपण उपलब्ध कराने हेतु हाईटेक नर्सरी एवं छुईखदान में पान अनुसंधान केन्द्र की स्थापना हेतु 2 करोड़ 50 लाख का प्रावधान किया गया है।
  • राजपुर, विकासखंड धमधा में शासकीय बीज प्रगुणन प्रक्षेत्र की स्थापना हेतु 1 करोड़ 57 लाख का प्रावधान किया गया है,  वहीं नवा रायपुर में 60 करोड़ की लागत से कृषि एवं किसान कल्याण भवन का निर्माण किया जाएगा।
  • गरियाबंद में शासकीय कृषि महाविद्यालय भवन एवं बालक-बालिकाओं के छात्रावास निर्माण हेतु 02 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • ग्राम आलीवारा, जिला-राजनांदगांव एवं ग्राम केवरा, जिला-सरगुजा में किसान सुविधा केन्द्र की स्थापना की जाएगी।
  • राज्य स्तरीय कृषि यंत्र परीक्षण प्रयोगशाला, रायपुर का भवन निर्माण किया जाएगा।
  • सीड लॉ एन्फोर्समेन्ट के लिए रायपुर में नवीन प्रयोगशाला की स्थापना की जाएगी।
  • 05 नये जिलों में उप संचालक, कृषि कार्यालय की स्थापना की जाएगी। दंतेवाड़ा, नारायणपुर, सुकमा, दुर्ग एवं मुंगेली में अनुविभागीय अधिकारी, कृषि कार्यालय की स्थापना करने की घोषण की है। 
  • सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सौर सुजला योजना अंतर्गत सोलर सिंचाई पम्प की स्थापना हेतु 600 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
यह भी पढ़ें   मखाना उत्पादन बढ़ाने के लिए सरकार दे रही है 75 प्रतिशत अनुदान

पशु पालन के लिए बजट में प्रावधान

  • ग्राम दतरंगा, जिला-रायपुर में राज्य पशु गृह एवं पशु-रूग्णावास की स्थापना हेतु 2 करोड़ 18 लाख का प्रावधान किया गया है।
  • 25 नये पशु औषधालयों की स्थापना हेतु 2 करोड़ 85 लाख का प्रावधान किया गया है।
  • 14 पशु औषधालयों का पशु चिकित्सालयों में उन्नयन किया जाएगा।
  • 17 नवीन पशु रोग अनुसंधान प्रयोगशालाओं की स्थापना की जाएगी।
  • पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय, बिलासपुर में पशुधन फार्म कॉम्प्लेक्स एवं अन्य कार्यों हेतु 5 करोड़ का प्रावधान किया गया है। 

मछली पालन के लिए बजट में की गई मुख्य घोषणायें

  • बजट में सरकार ने ग्राम किकिरमेटा, जिला-दुर्ग, ग्राम दुब्बाटोटा जिला-सुकमा एवं बालोद में 03 नवीन मत्स्य प्रक्षेत्र एवं हेचरी की स्थापना करने का प्रस्ताव रखा है।
  • मत्स्य महाविद्यालय, कवर्धा में बाउंड्रीवाल तथा आंतरिक सड़क निर्माण हेतु 2 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। 
यह भी पढ़ें   मौसम चेतावनी: 9 से 11 अप्रैल के दौरान इन जिलों में हो सकती है बारिश एवं ओला वृष्टि

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर