back to top
28.6 C
Bhopal
मंगलवार, जुलाई 16, 2024
होमकिसान समाचारनवम्बर के पहले सप्ताह में शुरू होगा गन्ना खरीदी का काम,...

नवम्बर के पहले सप्ताह में शुरू होगा गन्ना खरीदी का काम, किसानों को मोबाइल पर भेजे जाएँगे मेसेज

देश में किसानों को उनकी फसलों के उचित एवं लाभकारी मूल्य मिल सके इसके लिए सरकार द्वारा विभिन्न फसलों के समर्थन मूल्य पहले ही घोषित कर दिए जाते हैं। इसके बाद किसानों से उपज का पंजीयन कराकर उसकी खरीदी की जाती है। किसानों को अपनी उपज बेचने में परेशानी न हो इसके लिए सरकार द्वारा कई प्रयास किए जा रहे हैं। इस कड़ी में हरियाणा सरकार ने इस वर्ष 2023-24 में गन्ने के पेराई सत्र में गन्ना ख़रीदी की सूचना मोबाइल पर मेसेज भेजकर करने का निर्णय लिया है।

इस संबंध में हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि मिल में गन्ना लाने वाले किसानों की सुविधा के लिए मोबाईल पर ऑनलाइन संदेश भेजने की व्यवस्था की गई है ताकि किसानों को किसी प्रकार की दिक्कत एवं देरी का सामना न करना पड़े।

इस वर्ष 424 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई की जाएगी

सहकारिता मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य की सभी सहकारी चीनी मिलों में नवम्बर माह के पहले सप्ताह से गन्ने की पिराई का कार्य आरम्भ किया जाएगा। इस वर्ष 424 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई तथा 10 प्रतिशत रिकवरी रेट का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए केवल 10 रुपए में सस्ती दर पर पौष्टिक एवं गुणवत्ता युक्त आहार मुहैया करवाने की भी व्यवस्था की गई है।

यह भी पढ़ें   तरबूज की खेती से किसान कमा रहे हैं लाखों रुपये का मुनाफा

डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि सरकार द्वारा चीनी मिलों की क्षमता और उत्पादन बढ़ाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य की सभी सहकारी चीनी मिलों का क्लस्टर बनाकर एथनॉल प्लांट लगाए जाने की महत्वाकांक्षी योजना क्रियान्वित की जा रही है ताकि चीनी मिलों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाया जा सके। शाहाबाद की चीनी मिल में एथनोल प्लांट ने कार्य करना आरम्भ कर दिया है तथा पानीपत में भी जल्द ही एथनोल प्लांट लगाया जाएगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर