जानें मध्यप्रदेश में ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को कितना मुआवजा दिया जायेगा

1863

जानें मध्यप्रदेश में ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को कितना मुआवजा दिया जायेगा

किसानों के महीनो की मेहनत एवं उम्मीदों पर चंद मिनटों की ओलावृष्टि ने पानी फेर दिया | जो फसल किसान ने बड़ी मेहनत से बड़ी की थी चंद मिनटों में तबाह हो गई | मध्यप्रदेश में इससे अभी तक अनुमानित 984 गाँव प्रभावित हुए हैं, इनकी संख्या अभी बढ़ भी सकती है | इस पर मध्यप्रदेश ने सरकार लघु और सीमांत किसानों को अब 50 प्रतिशत से अधिक फसल हानि होने पर सिंचित फसल के लिये 30 हजार रूपये और असिंचित फसल के लिये 16 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से राहत दी जाएगी। अन्य कृषक (2 हेक्टेयर से अधिक भूमि धारित वाले) को सिंचित के लिये 27 हजार और असिंचित के लिये 13 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर राहत राशि देने का प्रावधान किया गया है।

साथ ही यह भी बताया जा रहा है किसानों को फसल बीमे की राशी भी दी जाएगी | इस हेतु लगातार बैठकों को दौर चल रहा हैं | मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने आज परख वीडियो कांफ्रेंस में जिला कलेक्टरों को निर्देशित किया कि प्रदेश में ओला वृष्टि की स्थिति और फसलों को हुई हानि का सर्वे सावधानीपूर्वक करें। सर्वे के लिये राजस्व, कृषि और पंचायत विभाग की टीम बनाई जाये जिसमें जनप्रतिनिधियों की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाये साथ ही फसलों के नुकसान के सर्वे में पारदर्शिता रखी जाये। सर्वे की सूची ग्राम पंचायतों में भी चस्पा की जाये।

यह भी पढ़ें   रबी फसलों की खरीदी शुरू, जानियें राज्यों में लॉकडाउन के बीच किस तरह से की जा रही है किसानों से खरीदी

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने ओला-वृष्टि से फसल को हुए नुकसान की समीक्षा करते हुए नुकसान का आकलन पूरी पारदर्शिता के साथ करने के निर्देश दिये हैं। सर्वेक्षण दल में राजस्व के अलावा कृषि और पंचायत विभाग के मैदानी अमले, पंच-सरपंचों और अन्य जनप्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाये, ताकि आकलन में किसी भी किसान को कोई शिकायत नहीं रहे।

 

पिछला लेखराजस्थान किसानों को जल्द मिलेगी ख़राब हुई फसल की राशि
अगला लेखकिसानों की आय दोगुनी करने के लिए महत्वपूर्ण मुद्दे और उनके समाधान पर सम्मलेन

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.