धान की फसल के बाद गेंहू की फसल लगाने हेतु इन बातों का रखें ध्यान

0
6930

धान की फसल के बाद गेंहू की फसल लगाने हेतु इन बातों का रखें ध्यान

किसान भाई गेंहू बुआई का सीजन आ गया है | जो 15 नवम्बर से शुरू हुआ है | इसके लिए खेत तैयार करना जरुरी है | अगर आप खेत से दो फसल लेना चाहते है तो कुच्छ बातों का ध्यान रखें | अभी आप के खेत से धान की फसल नहीं कटा है तो घबराने की कोई जरुरत नहीं है | क्यों की गेंहू की बुआई अभी 1.5 महीने तक चलेगा | इस लिए किसान समाधान आप के लिए गेंहू बुआई से पहले की तैयारी लेकर आया है |

  1. धान के फसल के बाद गेंहू की फसल बोना है :-

किसान भाई अगर आप धान की फसल के बाद गेंहू की फसल लेना चाहते हैं तो आप धान की कटाई के बाद खेत में देखे की पर्याप्त नमी है की नहीं अगर पर्याप्त नमी है तभी गेंहू की बुआई करे नहीं तो गेंहू की अंकुरण बहुत कम होगा | अगर आप के खेत में पर्याप्त नमी नहीं है तो अपने खेत को हल्की सिंचाई करें | इतना ध्यान रहे की खेत में कहीं पर पानी नहीं जम जाए | नहीं तो आप को खेत को सूखने में बहुत समय लगेगा | जिससे गेंहू की फसल में देरी होगी | कोशिश करें की खेत की सिंचाई स्प्रिंगल से करें इससे आप को समय तथा पानी दोनों की बचत होगा |

यह भी पढ़ें   नीम की पत्ती एवं निम्बोली से किसान इस तरह बनायें कीटनाशक, जाने क्या है इसके फायदे

लेकिन आप के पास स्प्रिन्गल नहीं है तो आप खेत की सिंचाई पम्प को एक जगह से दुसरे जगह रखकर करें | जिससे पानी एक जगह जमा नहीं होगा |

  1. खेत में बहुत खरपतवार उगाते है :-

किसान भाई अक्सर आप के द्वारा पूछा जाता है की गेंहू की खेत में खर – पतवार  हो गया है रोक – थाम कैसे करें | किसान भए इसकी रोक थाम गेंहू की बुआई से पहले ही किया जाता है नहीं की बाद में | क्यों की गेंहू की बुआई के बाद कोई भी दवा खर – पतवार नियंत्रण के लिए छिडकाव कीजियेगा तो उससे गेंहू को भी उत्नाहीं नुकसान होगा और आप की गेंहू की फसल नष्ट हो जायेगा |

रोकथाम की उपाय :-

किसान भाई आप अपने खेत को एक जुताई कर दें जिसमें गेंहू की बुआई नहीं करें | जुताई के बाद खेत को सिंचाई कर दें | सिंचाई के बाद खेत के पानी को सूखने दें  | आप देखेंगे की आप के खेत में खर पतवार उग आया है | खर – पतवार जैसे ही थोडा बड़ा होगा वैसे ही आप का खेत जुताई के लिए तैयार हो जायेगा | तब आप अपने खेत में गेंहू की फसल लगा दे | इससे गेंहू की बुआई भी हो जायेगा ठाठ जुताई में खर – पतवार भी नष्ट हो जायेगा |

यह भी पढ़ें   नवम्बर-दिसम्बर महीने में फलों की खेती करने वाले किसान करें यह काम

यह भी पढ़ें: रबी फसल: बुआई से पूर्व रखें इन बातों का ध्यान

यह भी पढ़ें: श्री विधि से करें गेंहूँ की लाभकारी खेती

यह भी पढ़ें: गेहूँ फसल के अधिक उत्पादन हेतु किस प्रकार करें बीजोपचार

यह भी पढ़ें: इस तकनीक से कम खर्च में अधिक गेहूं उत्पादन 

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.