आय में वृद्धी के लिए किसान भाई क्या करें

0
885

आय में वृद्धी के लिए किसान भाई क्या करें

दिन व दिन किसानों की हालत दयनीय होती जा रही है कृषि की लागत आधिक हो गई है परन्तु फसलों के दाम में न मात्र की वृद्धी हो रही है, जो कृषि कभी भारत की अर्त्थव्यव्स्था का आधार हुआ करती थी वह अब किसानों का आधार भी नहीं बन पा रही है इसके लिए कृषकों को स्वयं ही कुछ करना होगा उन्हें पारंपरिक कृषि से निकल कर नए नए नवाचार करना होगा जिससे वह अपनी आय में वृधि कर सकें |

समय के साथ बाजार में भी काफी बदलाव हुआ है इसलिए समय के साथ किसानों को भी बाजार के साथ बदलना पढ़ेगा इसके लिए किसान भाइयों को आजकल के सिस्टम के हिसाब से कृषि को भी एक बिज़नस की तरह करना होगा | अब किसान भाई भी खेती के लिए अपना एक रोडमेप बना कर कदम दर कदम आगे बढ़ें| कृषि में नई तकनीक को अपना कर कम लागत में अधिक उत्पादन पाने का लक्ष्य निर्धारित कर, कृषि विशेषज्ञों की राय लेकर खेती को भी एक बिज़नस की तरह लागू करना होगा | फसल उत्पादन पर निर्भर न रहकर साथ मैं अन्य कार्य भी करना होगा जैसे की

  1. मृदा सर्वेक्षण तथा मृदा संरक्षण कर अपनी खेत की मृदा को जानें एवं उसकी उपजाऊ शक्ति को बढ़ाएं |
  2. अधिकाधिक कृषकों को कृषि की नई तकनीकि का प्रयोग सीखना |
  3. भूमिगत जल तथा भू पृष्ठीय जल के वैज्ञानिक उपयोग को बढ़ावा देना।
  4. जल संसाधन को वैज्ञानिक प्रबंध द्वारा दुरुपयोग को रोकना।
  5. कृषकों को समुचित प्रशिक्षण लेना ।
  6. दलहनी तथा तिलहनी एवं मोटे अनाजों की फसलों के उत्पादन को बढ़ाना।
  7. व्यापारिक फसलों का परंपरागत फसलों के साथ समायोजन करें ।
  8. जैविक कृषि का प्रयोग करना ।
  9. पशुओं की नस्लों में सुधार तथा पशुपालन को प्रोत्साहन।
  10. पशुओं के चारे की फसलों को लगायें।
  11. कृषि की सहायक क्रियाओं को साथ में करना |
  12. कृषि आधारित कुटीर उद्योगों को लगाना |
  13. कृषकों को स्वयं ही अपना बाजार ढूँढना पढ़ेगा |
  14. स्व-सहायता समूह बनाकर बढे स्तर पर कृषि करना |
  15. कृषकों को फसल भंडारण के लिए उचित व्यवस्था करें |
  16. किसान भाई इस तरह से अपनी आय में कुछ इजाफा कर सकते हैं |
यह भी पढ़ें   देश में 3 करोड़ सोलर पम्प स्थापित करने वाली कुसुम योजना का क्या हुआ

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.