खेती-किसानी के कार्यों के लिए किसानों को मुफ्त में दिए जा रहे हैं ट्रैक्टर एवं अन्य कृषि यंत्र

19
42776

ट्रैक्टर एवं अन्य कृषि यंत्र

लॉक डाउन के कारण रबी फसल की थ्रेसरिंग तथा हार्वेस्टिंग में किसानों को परेशानी आ रही है | इसके अतरिक्त खेत की जुताई के लिए ट्रैक्टर उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं | इसको देखते हुए राजस्थान सरकार ने किसानों को किराये पर कृषि यंत्र उपलब्ध करवा रही है | इसके लिए राज्य सरकार ने कृषि यंत्र निर्माता कंपनी टैफे कम्पनी से समन्वय कर योजना को संचालित किया जा रहा है | योजना के अंतर्गत किसान को सभी ट्रेक्टर, हार्वेस्टर एवं ट्रेक्टर चालित अन्य कृषि यंत्र उपलब्ध करवाए जा रहे हैं | अभी तक इस योजना का लाभ 8 हजार  से अधिक किसानों के द्ववारा प्राप्त किया जा चूका है  | किसान समाधान इस योजना की पूरी जानकारी लेकर आया है , जिससे राजस्थान के किसान योजना का लाभ उठा सकता है |

ट्रैक्टर एवं अन्य कृषि यंत्र किन जिलों में मुफ्त में मिल रहे हैं

किसानों की मांग के अनरूप राजस्थान के कई जिलों में चलाया जा रहा है | इस बारे में विभाग के अधिकारीयों के तरफ से जानकारी दी गई है कि कृषि यंत्र निर्माता टैफे कम्पनी से समन्वय कर अजमेर, अलवर, बारां, भरतपुर, बूंदी, जयपुर, झालावाडा, झुंझुन, जोधपुर, करौली, कोटा, नागौर, सवाई माधोपुर, सीकर, टोंक, धौलपुर, जालोर, पाली, उदयपुर, चित्तौडगढ़, भीलवाडा, बीकानेर एवं दौसा जिलों में यह सुविधा शुरू करवाई है |

यह भी पढ़ें   सिंचाई हेतु 75,500 रुपये की सब्सिडी पर तालाब बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

योजना के अंतर्गत किसान को क्या–क्या उपलब्ध कराया जा रहा है 

कृषि मंत्री ने बताया है कि किसान को रबी फसल की कटाई के लिए थ्रेसर, हार्वेस्टर, जुताई के लिए ट्रैक्टर तथा अन्य कृषि यंत्र उपलब्ध कराए जा रहे हैं | यह किसानों के मांग के अनुरूप उपलब्ध कराए जाते हैं |

इस योजना से अभी तक कितने किसान लाभन्वित हुए हैं ?

राजस्थान के कृषि मंत्री के अनुसार राज्य के जरूरतमंद तथा पात्र किसानों की और से मांग आने पर कंपनी के रजिस्टर्ड ट्रैक्टर एवं थ्रेसर के माध्यम से सेवा दी जा रही है | अभी तक करीब 10 हजार किसानों ने मांग की है जिनमें से 7 हजार पात्र किसानों के आर्डर स्वीकार किए गए हैं | इनमें से करीब 4 हजार किसानों को 8 हजार घंटों से अधिक की सेवा मुहैया कराई जा चुकी है | आर्डर मिल चुके किसानों को निरंतर सेवा उपलब्ध करवाई जा रही है |

इस योजना का लाभ सबसे ज्यादा राज्य के सीकर जिले के किसान उठा रहे है | विभाग के अधिकारी तथा किसानों के जागरूकता के कारण यह संभव हुआ है | सीकर जिले में करीब 13,00 घंटों की सेवा दी जा चुकी है | कृषि मंत्री ने बताया है कि किसानों को ज्यादा से ज्यादा पहुँचने के निर्देश दिये हैं | श्री कटारिया ने बताया कि फिलहाल यह सेवा आगामी 30 जून तक जारी रहेगी |

यह भी पढ़ें   किसानों के लिए अब रेशम बेचना हुआ आसन, ऑनलाइन रेशम बेचने के लिए यहाँ पंजीकरण करवाए

किसान कृषि यंत्र किराये पर कैसे प्राप्त कर सकते हैं ?

राजस्थान में यह योजना सभी जिलों में चलाई जा रही है, लेकिन योजना का लाभ केवल लघु तथा लघु सीमांत किसान ही प्राप्त कर सकते हैं | योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए 9282222885 नंबर पर एसएमएस भेजकर जेफार्म सर्विसेज से सम्पर्क कर सकते हैं | किसान पहले से जेफार्म सर्विसेज में पंजीकृत हैं और किराए पर ट्रैक्टर एवं अन्य उपकरण के लिए आर्डर करना चाहते हैं तो “ए” लिखकर संदेश भेजें , अगर पंजीकृत नहीं है तो “बी” संदेश भेजें |

कृषि उपज के सुचारू परिवहन के लिए ‘किसान रथ’ ऐप

उपज के सुचारू परिवहन के लिए किसान एवं व्यापारी ‘किसान रथ’ ऐप का उपयोग कर सकते हैं। इसमें लगभग 5 लाख ट्रक एवं 20 हजार ट्रैक्टर जुड़े हुए हैं, जो किसानों के उत्पाद जैसे अनाज, दालें, सब्जियां, फल आदि को प्रतिस्पद्र्धी रेट पर मंडियों, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट आदि तक ले जाएंगे। इस समय जब ट्रांसपोर्ट की कुछ समस्या है, तब यह बहुत ही उपयोगी हो सकता है।

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

19 COMMENTS

  1. मुझे ट्रेक्टर पर सबसिडी चाहिए plz मुझे बताएं मै कैसे करू

    • अभी आवेदन नहीं हो रहे हैं जब आवेदन होंगे तब जानकारी दी जाएगी |

  2. मुझे ट्रेक्टर नहीं मिल रहा है जो फ्री योजना में जुताई के लिए

    • आपका जिस बैंक से ऋण था उस बैंक में पता करें | या तहसील में सम्पर्क करें |

    • सर अभी आवेदन नहीं हो रहे हैं | जब आवेदन होंगे तब जानकारी दी जाएगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here