योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसान खुद इस एप पर करें अपनी फसल की गिरदावरी

2590
girdawari app mp

फसल गिरदावरी के लिए एप

देश में किसानों के लिए राज्य एवं केंद्र सरकार द्वारा कई योजनाएँ चलाई जा रही हैं। इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसानों को भूमि एवं उसमें उपजाई जा रही फसल की जानकारी किसानों को देना होता है। अभी तक यह काम तहसील एवं पटवारियों के माध्यम से किया जाता था, जिसमें काफी समय लगता है। साथ ही कई बार ग़लत फसल या रक़बा दर्ज होने से किसान कई योजनाओं से वंचित रह जाते थे। इस समस्या के समाधान के लिए मध्यप्रदेश सरकार ने एक एप बनाया है जिससे किसान स्वयं अपनी फसलों की गिरदावरी दर्ज करा सकते हैं।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश और आत्म-निर्भर किसान के मंत्र पर राज्य सरकार ने एक और किसान हितैषी निर्णय लिया है। “मेरी गिरदावरी- मेरा अधिकार” में अब किसान निश्चिंत होकर अपनी फसल की जानकारी “MP KISAN App” के माध्यम से दर्ज कर सकेंगे। इस जानकारी का उपयोग कई योजनाओं में किया जाएगा।

किसानों को आसानी से मिलेगा इन योजनाओं का लाभ

किसानों के द्वारा दर्ज की गई जानकारी का उपयोग प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत फसल हानि आंकलन में, न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना, भावांतर योजना, किसान क्रेडिट कार्ड और फसल ऋण एवं कृषि ऋण में किया जायेगा। साथ ही दर्ज की गई जानकारी का उपयोग अन्य कई योजनाओं में किया जा सकेगा। प्राकृतिक कारणों से फसलों के नुकसानी पर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा राशि प्राप्त करने के लिए फसलों का गिरदावरी करना जरुरी रहता है। जिससे खेती तथा उसमें लगाई गई फसल की जानकारी प्राप्त होती है साथ ही फसल नुकसान होने पर उसका सही आंकलन किया जा सकता है। इस तरह किसान अपनी फसलों की गिरदावरी कर योजनाओं का लाभ आसानी से ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें   समर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए 16 अक्टूबर तक गिरदावरी अनिवार्य रूप से अपलोड करवाएं किसान

किसान कौन से एप से कर सकेंगे गिरदावरी

मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य के किसान स्वयं अपने फसलों की गिरदावरी कर सकें इसके लिए “मेरी गिरदावरी- मेरा अधिकार” के तहत MP KISAN App विकसित किया है। इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। “मेरी गिरदावरी-मेरा अधिकार” में किसान को यह सुविधा उपलब्ध करवाई गई है कि वे अपने खेत से ही स्वयं फसल की जानकारी एमपी किसान एप पर दर्ज कर अपने आप को रजिस्टर सकते हैं। किसान इस एप पर 1 अगस्त 2022 से 15 अगस्त 2022 तक खरीफ फसलों का गिरदावरी करा सकते हैं |

MP KISAN App पर किसान कैसे करें गिरदावरी

किसान MP KISAN App पर किसान खुद से ई-गिरदावरी कर सकते हैं, इसके लिए किसानों को प्ले स्टोर से इस एप को डाउनलोड करना होगा। किसान को एप पर लॉगिन कर फसल स्व-घोषणा, दावा आपत्ति आप्शन पर क्लिक कर अपने खेत को जोड़ सकते हैं। खाता जोड़ने के लिए प्लस ऑप्शन पर क्लिक कर जिला/तहसील/ग्राम खसरा आदि का चयन कर एक या अधिक खातों को जोड़ा जा सकता है। खाता जोड़ने के बाद खाते के समस्त खसरा की जानकारी एप में उपलब्ध होगी। उपलब्ध खसरा की जानकारी में से किसी भी खसरे पर क्लिक करने पर एआई के माध्यम से जानकारी उपलब्ध होगी।

यह भी पढ़ें   बजट की इस योजना से किसानों को होगा फायदा

किसान के सहमत होने पर एक क्लिक से फसल की जानकारी को दर्ज की जा सकेगी | संभावित फसल की जानकारी से असहमत होने पर खेत में बोयी गई फसल की जानकारी खेत में उपस्थित होकर लाइव फोटो के साथ दर्ज की जा सकती है। जिसके बाद किसान के द्वारा दर्ज इस जानकारी का आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस एवं पटवारी से सत्यापन होगा।

फसल गिरदावरी करने हेतु MP Kisan APP डाउनलोड करने के लिये क्लिक करें

पिछला लेखफसलों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए किसान 31 जुलाई तक इस तरह कराएँ अपनी फसलों का बीमा
अगला लेखपशुपालक किसान रहें सावधान, अभी पशुओं में तेज़ी से फैल रही है यह जानलेवा बीमारी

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.