सभी किसानों की बीमित फसल की पूरी दावा राशि का किया जायेगा भुगतान: मुख्यमंत्री

0
fasal bima dawa rashi ka bhugtan

बीमित फसलों की दावा राशि का भुगतान

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना शुरुआत से ही सवालों के घेरे में रही है, योजना के तहत किसानों एवं किसान संगठनों का यह आरोप रहता है की इससे किसानों को कम बल्कि फसल बीमा कंपनियों को अधिक लाभ हुआ है | सरकार द्वारा भी किसानों की मांग के अनुसार फसल बीमा योजना में लगातार कई सुधार किये जा रहे हैं | बिहार एवं झारखण्ड राज्य इस बीमा योजना से अलग भी हो चुके हैं | इस सबके बाबजूद भी अभी तक किसानों को योजना का लाभ पूरी तरह नहीं मिल पा रहा है |

अभी हाल ही में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 22 लाख से अधिक किसानों को खरीफ-2019 में हुई फसल नुकसानी का बीमा दिया गया | इस भुगतान में कई किसानों 1 रुपये या उनके द्वारा जो प्रीमियम भरा गया था उससे कम भुगतान किया गया है | ऐसे भी बहुत से किसान हैं जिन्हें फसल बीमा राशि का भुगतान अभी तक नहीं हो पाया है |

बीमित फसल की पूरी दावा राशि दी जाएगी: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के हर किसान को फसल बीमा कंपनियों से पूरा न्याय दिलाया जाएगा। प्रदेश के ऐसे किसान, जिन्हें फसल बीमा दावा राशि नहीं मिली है अथवा कम मिली है, उन सबका पक्ष बीमा कंपनियों के सामने सरकार मजबूती से रखेगी तथा आवश्यकता पड़ने पर इस संबंध में भारत सरकार से बातचीत भी की जाएगी। प्रत्येक किसान की बीमित फसल की पूरी दावा राशि उन्हें दिलाई जाएगी। इसके साथ ही प्रत्येक बाढ़ पीड़ित को शीघ्र ही राहत राशि भी दिलवाई जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में प्रदेश के किसानों को बीमा कंपनियों से प्राप्त दावा राशि के संबंध में उच्च स्तरीय बैठक ले रहे थे।

यह भी पढ़ें   फसल लगाने के लिए 13,500 रुपये लेने हेतु आवेदन का आखरी दिन, इन किसानों को नहीं मिलेगा लाभ

पुन:परीक्षण कर तैयार की जाएगी सूची

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कई जिलों से शिकायतें आई हैं कि कुछ किसानों को या तो दावा राशि प्राप्त नहीं हुई है अथवा उनको हुए नुकसान के अनुपात में वह काफी कम है। इस संबंध में प्रत्येक जिले में पुन: परीक्षण कर कलेक्टर के माध्यम से सूची प्राप्त करें तथा प्राप्त सूची अनुसार संबंधित बीमा कंपनी के समक्ष पुन: बीमा दावा प्रस्तुत करें। हर किसान को न्याय मिलना चाहिए।

बीमा दावा राशियों का भुगतान

खरीफ 2018 में प्रदेश में कुल 8 लाख 94 हजार 919 किसानों को दावा राशि 1,987 करोड़ 27 लाख रूपये का भुगतान किया गया। रबी 2018-19 में बीमा कंपनियों द्वारा दावा राशि 710 करोड़ रूपये का भुगतान किया गया। खरीफ 2019 में कुल 22 लाख 49 हजार 760 किसानों को दावा राशि 4 हजार 688 करोड़ रूपये का भुगतान किया जाना था, जिसमें से 1 अक्टूबर तक 14 लाख 40 हजार किसानों को 2,628 करोड़ रूपए बीमा दावा राशि का भुगतान किया गया है।

यह भी पढ़ें   अब तक का सबसे बड़ा कृषि बजट,लोन माफी के लिए दिए गए 8,000 करोड़ रुपए

गौरतलब है की मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 18 सितम्बर 2020 को दोपहर 11:30 वन क्लिक में देश के 22 लाख 51 हजार 188 किसानों को खरीफ 2019 की फसल बीमा दावा की कुल राशि 4 हजार 688 करोड़ 83 लाख का ई-अंतरण के माध्यम से भुगतान की बात कही थी | परन्तु अभी तक मात्र 14 लाख 40 हजार किसानों को 2,628 करोड़ रूपए बीमा दावा राशि का भुगतान किया गया है। शेष किसानों को भुगतान की प्रकिया की जा रही है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

Previous articleकृषि कानूनों के विरोध में राहुल गाँधी ने पंजाब में शुरू की खेती बचाओ यात्रा
Next articleबाढ़ एवं कीट-रोगों से हुए नुकसान का किसानों को दिया जायेगा 4,000 करोड़ रुपये का मुआवजा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here