सोयाबीन से शुरू करें बिज़नेस, करें अतिरिक्त आय 

3
2415
views

सोयाबीन से शुरू करें अपना बिज़नेस, करें अतिरिक्त आय 

सोयाबीन से सिर्फ तेल ही नहीं बल्कि बल्कि दूध, पनीर, बिस्कुट एवं अन्य खाद्य पदार्थों के रूप में भी उपयोग किया जाता है, शहरों मैं सोया उत्पादों की मांग हमेशा रहती है क्योकि यह प्रोटीन से भरपूर होता है, किसान भाई सोयाबीन को सीधे  मंडी में न बेचकर यदि उसके प्रोडक्ट बना कर यदि बाजार में बेचेंगे तो उन्हें कई गुना लाभ होगा साथ वह इससे अपना खुद का बिजनेस भी स्थापित कर सकते हैं अभी हम आप को सोया पनीर से सम्बंधित जानकारी दे रहें हैंI

सोया पनीर (टोफू)

सोया पनीर, सोयाबीन प्रसंस्करण से प्राप्त एक उत्तम खाद पदार्थ है | यह जापान, चीन, कोरिया, इत्यादि पूर्वी देशों में सदियों से लोकप्रिय रहा है | इसे तैयार करने के लिए साफ सोयाबीन दानों को 6 से 8 घण्टों तक साफ पानी में भिगोया जाता है | तत्पशचात इसकी पिसाई कर उबलने (1:6 अनुपात पानी के साथ) व छानने से सोया दूध प्राप्त होता है | सह उत्पादन – ओकारा का भी परंपरागत खाद्ध पदार्थों जैसे हलवा, नमकीन, बर्फी, गुलाब जामुन, इत्यादि में आसानी से उपयोग किया जा सकता है | सोया दूध, जिसका पोषक मूल्य गाय के दूध के बराबर होता है, दूध शकर्रा (लेक्टोज) एलर्जी से ग्रसित लोगों के लिए बहुत लाभदायक है | सोया दूध से सोया पनीर, सोया दही, सोया श्रीखंड तथा मट्ठा तैयार किया जा सकता है | सोया दूध को कैल्शियम सल्फेट / मैगनेशियम क्लोराइड / साइट्रिक एसिड से फाड़ कर व फटांस को साफ कपडे में मशीन से दबाकर पनीर के चौकोर टुकड़े प्राप्त किए जाते है | इन्हें साफ पानी में ठंडा कर पालीथीन थैलियों में पैक कर लिया जाता है | प्रति 100 ग्राम पनीर में 14 ग्राम प्रोटीन, ९ ग्राम वसा (तेल) व लगभग 72 ग्राम नमी होती है | इसके प्रति 100 ग्राम में लगभग 102 कि. कैलोरी उर्जा होती है |

यह भी पढ़ें   बेर की गोली बनाना

उपयोग

सोया पनीर का उपयोग दूध, पनीर की भांति ही प्रतिदिन के खाद्ध पदार्थों में मिलाकर या अलग से किया जा सकता है | इसको सब्जी , पुलाव, पकोड़े आदि में मिलाकर या सिर्फ तलकर भी उपयोग किया जा सकता है |सोया पनीर को किस कर मिलाने से भी स्वादिष्ट सब्जी व पराठा तैयार होता है |

सुरक्षित रख रखाव

सोया – पनीर को कम तापमान पर अर्थात रेफ्रिजरेटर के अंदर पैकेट में या पानी भरे बर्तन में 3 – 4 दिन के अंतराल से बदलना आवश्यक है | रेफ्रिजरेटर के अभाव में ठंडे पानी में डुबाकर भी इसे 6 – 12 घंटे सुरक्षित रखा जा सकता है |

सोया में पायेजाने वाले पोषक तत्व

ग्राम प्रति 100 ग्राम सोया पनीर

प्रोटीन –  14

वसा –    9

नमी –   72

उर्जा  –  102 कि. कैलोरी

इसकी ट्रेनिंग कंहा से लें

इसकी ट्रेनिग भोपाल में दिया जाता है | जिसका पता है

कृषि उत्पाद प्रसंस्करण प्रभाग ,
केंद्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान 
नबीबाग बैरसिया रोड, भोपाल – 462038
सोमवार- शनिवार  91-755-2521061

इसके लिए आप को संस्था में 5000 रु.का रजिस्टेशन कराना होगा | यह ट्रेनिंग 7 दिन का होगा |

यह भी पढ़ें   तुलसी की फसल के उत्पाद बनाकर किसान अपनी आय बढ़ाएं

नीचे दी गई जानकारी भी पढ़ें 

अब किसान अतिरिक्त आय के लिए कहीं भी कर सकते हैं…

बकरियों के दूध से उत्पाद बनाकर किसान भाई कर सकते हैं अतिरिक्त आय

किसान भाई केंचुआ खाद से करें अतिरिक्त आय, जाने केचुआ खाद बनाने की विधि एवं उससे होने वाली आय

3 COMMENTS

    • जी सर हम इसकी जानकारी जल्द ही वेबसाइट पर अपडेट करेंगें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here