किसानों के घरों पर बीज 80 प्रतिशत की सब्सिडी पर दिया जायेगा

2
1740
views
seed and pesticide vehicle deliver at home

किसानों प्रमाणित बीज 80% सब्सिडी पर दिए जाएंगे

खरीफ फसल की बुवाई के लिए अलग – अलग फसल के लिए खेत या नर्सरी की तैयारी शुरू कर दी गई है | खरीफ फसल में एक महत्वपूर्ण फसल है धान | धान की बीज खरीदना शुरू कर दिया है | इसके लिए किसान दुकानों तथा सरकारी संस्थाओं से सम्पर्क करने लगे है | सरकारी संस्था से सभी किसानों को बीज उपलब्ध नहीं हो पाता है | जिसके कारण किसान बाजार के बीज पर निर्भर करता है |

बिहार राज्य सरकार ने किसानों को धान का बीज सब्सिडी पर उपलब्ध कराने के लिए प्रदेश भर में बीज रथ को रवाना किया है | यह बीज रथ सभी जिलों में जायेगा | बिहार में कुल 38 जिले है इसलिए प्रत्येक जिले के लिए 38 रथ रवाना किया गए है | यह सभी रथ प्रखंड स्तर पर किसानों को सम्मलेन करेगा | जिससे किसानों को बीज उपलब्ध कराने के लिए चयनित किया जायेगा और अगले दिन चयनित किसानों को धान का बीज उपलब्ध करा दिया जायेगा | प्रखंड स्तर पर सम्मेलन करने से पहले रथ को उस प्रखंड के सभी गांवों में 2 दिन पहले घुमाया जायेगा | ताकि किसानों के बीच इसका व्यापक प्रचार – प्रसार हो सके और किसानों की सहभागिता अधिक से अधिक सुनिश्चित हो सके |

यह भी पढ़ें   बैंक कर्ज से मरता किसान और अरबपति होता उधोगपति

इस सम्मेलन में किसानों को धान के साथ ही धान की खेती को प्रोत्साहन के लिए व्यापक स्तर पर जानकारी भी दिया जायेगा | खासकर श्री विधि से धान की खेती के साथ जीरो टिलेज एवं सीड ड्रिल के उपयोग के साथ साथ धान की सीधी बुवाई के बारे में जानकारी दिया जायेगा |

बीज 80 प्रतिशत की सब्सिडी पर दिया जायेगा 

खरीफ मौसम में तनावरोधी स्वर्णा सब -1 , सहभागी एवं सम्पदा धान किस्में में बीज पर 80 प्रतिशत अनुदान पर कुल 25,000 क्विंटल बीज मिनी कीट के रूप में वितरित करने हेतु कुल 680 लाख रूपये की योजना का क्रियान्वयन किया जाना है | इसका मतलब यह हुआ की किसानों धान का जो बीज उपलब्ध कराया जायेगा उसमें 80 प्रतिशत तक का सब्सिडी रहेगी |

खरीफ फसल के बढ़ाबा देने के लिए एक और रथ रवाना किया गया है

किसानों में खरीफ फसल को बढ़ावा देने के लिए  अलग से एक रथ को रवाना किया गया है | यह रथ धान के बीज रथ के साथ ही चलेगा तथा यह भी प्रखंड स्तर पर किसानों का साथ में ही सम्मलेन करेगा | इस रथ खरीफ फसल में जानकारी उपलब्ध कराने के लिए विशेष रूप से चलाया गया है |

यह भी पढ़ें   फसल बीमा में व्यक्तिगत नुकसान के दावों की सूचना देने का समय बढाया गया

इसके साथ प्रदेश के 8,405 पंचायतों में चौपाल लगाया जायेगा | जिसमें कृषि के अलावा पशुपालन, मत्स्यपालन एवं सहकारिता विभाग द्वारा संचालित कार्यक्रमों की जानकारी किसानों को उपलब्ध कराई जायेगी |

2 COMMENTS

  1. प्रधानमंत्री जी से अनुरोध है कि शहरी आदमी यो को ढाई ढाई लाख रुपये मकान के लिए मिल रहे है उसी तरह ग्रामीणो के लिये होना चाहिए सबको एक जैसी सुबिधा चाहिए आप ठीक नही कर रहे है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here