गणतंत्र दिवस के दिन होने वाली किसान परेड को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने जारी किये दिशा-निर्देश

0
232
kisan tractor parade

किसान परेड को लेकर दिशा-निर्देश

26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में होने वाली किसान परेड को लेकर दिल्ली पुलिस एवं किसान संगठनों के बीच सहमति बन गई है | हालाकिं कुछ किसान नेताओं ने पुलिस के द्वारा दिए गए रास्तों को लेकर आपत्ति जताई है | सिंघु और टीकरी बॉर्डर पर किसानों एवं ट्रैक्टरों के आने का सिलसिला लगातार जारी है। किसान नेताओं का दावा है कि 26 जनवरी की सुबह तक एक लाख से अधिक ट्रैक्टर आ जाएंगे। 26 जनवरी को होने वाली इस ऐतेहासिक परेड को लेकर संयुक्त किसान मोर्चे ने किसानों के लिए कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं |

संयुक्त किसान मोर्चे की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि यह एक ऐतिहासिक परेड है आज तक देश में गणतंत्र दिवस पर गण यानि हम लोगों ने कभी इस तरह परेड के जरिये देश और दुनिया को अपना दुःख दर्द नहीं दिखाया है | इस दिन हम तीनों किसान विरोधी कानूनों की सच्चाई को बताना है | पर साथ ही हमें ध्यान रखना है की परेड पर किसी किस्म का धब्बा न लगने पाए | परेड शांति पूर्वक और बिना किसी वारदात के पूरी होने में ही हमारी जीत है | उन्होंने ने कहा की हम दिल्ली नहीं बल्कि देश की जनता का दिल जीतने जा रहे हैं |

यह भी पढ़ें   यहाँ किसानों को हार्वेस्टर सहित अन्य कृषि यंत्रों की खरीद पर दी गई लगभग 8 करोड़ रुपये की सब्सिडी

26 जनवरी गणतंत्र दिवस परेड के लिए दिशा निर्देश

  • परेड में ट्रेक्टर और दूसरी गाडी रहेंगी लेकिन ट्राली की इजाजत नहीं दी जाएगी | जिन ट्रालियों में विशेष झांकी बनी होगी उन्हें छूट दी जाएगी |
  • किसान अपने साथ 24 घंटे का राशन पानी पैक करके चलें | जाम जाम में फ़साने पर ठण्ड से बचाब का इंतजाम भी रखें |
  • ट्रेक्टर या गाडी पर किसान संगठन के झंडे के साथ-साथ राष्ट्रिय झंडा भी लगाया जाये |
  • अपने साथ किसी भी तरह का हथियार न रखें, लाठी भी न रखें | किसी भी भड़काऊ या नकारात्मक नारे वाले बैनर न लगायें |
  • परेड में शामिल होने की सुचना देने के लिउए 8448385556 पर एक मिस्ड कॉल दें | अधिक जानकारी के लिए अपने किसान संगठनों के नेताओं से या फिर हेल्पलाइन नम्बर 7428384230 पर कॉल करें |

इन बातों का रखें ध्यान

  • परेड की शुरुआत किसान नेताओं की गाडी से होगी | उनसे पहले कोई ट्रेक्टर या गाड़ी रवाना नहीं होगी | हरे रंग की जैकेट पहने ट्रैफिक वालेंटियर की हर बात मानें | परेड का रूट तय किया जा चूका है उस रूट से बहार जाने कि कोशिश न करें |
  • एक ट्रेक्टर पर ज्यादा से ज्यादा ड्राईवर सहित 5 लोग ही रहने | बोनट,बम्पर, या छत पर कोई नहीं बैठे |
  • सब ट्रेक्टर लाइन में चलेंगे, ट्रेक्टर पर किसी तरह का गाना न बजाया जाये |
यह भी पढ़ें   प्रधानमंत्री मोदी ने किसानों को 2 लाख तो राज्यों को दिए 2 करोड़ रुपये के कृषि पुरस्कार

संयुक्त किसान मोर्चे ने परेड में शामिल होने वाले किसानों से अपील किआ है की हमें गणतंत्र दिवस की शोभा बढ़ानी, लोगों का दिल जीतना है | इस बात का ख़ास ध्यान रहे की महिलाओं से पूरी तरह से सम्सेमान के साथ पेश आयें | पुलिस का सिपाही भी यूनिफार्म पहने हुए किसान है, उनसे किसी तरह का कोई झगडा न किया जाये | मिडिया वाले चाहे किसी भी चेनल से हों उनका भी सम्मान किया जाये | कचरा सडक पर न फेकें अपने साथ कचरे के लिए एक बैग अलग से रखें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here