अब रबी सीजन में भी होगा सूखा घोषित

1466

अब रबी सीजन में भी होगा सूखा घोषित

मध्यप्रदेश में अब रबी सीजन को भी सुखा घोषित किया जाएगा | सूखा घोषणा एवं प्रबंधन के लिये पूर्व के निर्देशों को अधिक्रमित करते हुए नये निर्देश जारी किये गये हैं। अब रबी सीजन में भी सूखा घोषित करने का प्रावधान किया गया है। पहले सिर्फ खरीफ सीजन में ही सूखा घोषित करने का प्रावधान था। खरीफ में अगस्त तथा रबी में दिसंबर तक अग्रिम सूखा घोषित किया जा सकेगा।

सूखा के लिये वैज्ञानिक मापदण्ड

सूखा की घोषणा वैज्ञानिक मापदण्डों के आधार पर भारत सरकार के सूखा प्रबंधन मैनुएल-2016 के आधार पर की जायेगी। पहले चरण में वर्षा के आंकड़ो का परीक्षण होगा। फिर बोनी के क्षेत्र, जल विज्ञान संबंधी सूचकांकों, सुदूर संवेदन के सूचकांकों और मृदा नमी के सूचकांको को जांचा जायेगा। तीसरे चरण में मौका सत्यापन करवाया जायेगा।। जिसमें पहले और दूसरे चरण के निष्कर्षो की पुष्टि की जायेगी। मौका सत्यापन में अगर 33 प्रतिशत या अधिक की क्षति पायी जाती है, तो मध्यम सूखा और 50 प्रतिशत से अधिक की फसल क्षति पर क्षेत्र गंभीर सूखा की पात्रता में आयेगा।

यह भी पढ़ें   3 फरवरी को इन्हें दी जाएगी 2000 रुपये की किश्त

इसके लिए भौगोलिक एवं प्रशासकीय इकाई ग्राम पंचायत, तहसील अथवा जिला हो सकती है। सूखा की अधिसूचना अधिकतम 6 माह तक प्रभावी रहेगी। खरीफ के सूखे की अधिसूचना अधिकतम 30 अक्टूबर और रबी के सूखे की अधिसूचना अधिकतम 31 मार्च तक जारी की जायेगी।

पिछला लेखमिट्टी परीक्षण प्रयोगशाला खोलने पर मिलेगा 75 प्रतिशत अनुदान
अगला लेखसरकार ने की खरीफ फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में बढ़ोतरी

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.