Thursday, December 1, 2022

1 नवम्बर से शुरू होगी मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की खरीद, किसान इस दिन से करा सकेंगे ऑनलाइन पंजीयन

Must Read

मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए किसान पंजीयन

खरीफ फसलों की कटाई के साथ ही सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर इन फसलों की खरीद शुरू कर दी जाती है। इस कड़ी में राजस्थान सरकार ने राज्य में मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की उपज न्यूनतम समर्थन मूल्य MSP पर खरीदने का निर्णय लिया है। सरकार ने इसके लिए किसान पंजीयन एवं मंडियों में खरीद के लिए तारीखों का भी ऐलान कर दिया है। सरकार द्वारा घोषित तारीखों के अनुसार राज्य में 879 खरीद केन्द्रों पर मूंग, उड़द एवं सोयाबीन की 1 नवम्बर से तथा 18 नवम्बर से मूंगफली खरीद की जाएगी।

राजस्थान के सहकारिता मंत्री श्री उदय लाल आंजना ने बताया कि प्रदेश में राजफैड द्वारा समर्थन मूल्य पर मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की खरीद के लिये ऑनलाइन पंजीकरण गुरूवार, 27 अक्टूबर से शुरू किया जाएगा। जिसमें 879 खरीद केन्द्रों पर मूंग, उड़द एवं सोयाबीन की 1 नवम्बर से तथा 18 नवम्बर से मूंगफली खरीद की जाएगी।

ऑनलाइन होंगे उपज बेचने के लिए किसान पंजीयन 

- Advertisement -

किसानों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण की व्यवस्था ई-मित्र एवं खरीद केन्द्रों पर प्रातः 9 बजे से सायं 7 बजे तक की गई है। किसान समर्थन मूल्य पर मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की खरीद के लिये ऑनलाइन पंजीकरण गुरूवार, 27 अक्टूबर से करा सकते हैं। किसान एक जनआधार कार्ड में अंकित नाम में से जिसके नाम गिरदावरी होगी उसके नाम से एक पंजीयन करवा सकेंगे। किसान इस बात का विशेष ध्यान रखे कि जिस तहसील में कृषि भूमि है उसी तहसील के कार्यक्षेत्र वाले खरीद केन्द्र पर उपज बेचान हेतु पंजीकरण कराएँ। दूसरी तहसील में पंजीकरण मान्य नही होगा।

यह भी पढ़ें   सरकार ने की MSP की घोषणा, जानिए वर्ष 2023 में क्या रहेगा गेहूं, चना, सरसों सहित अन्य रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य

उपज बेचान के लिए पंजीयन हेतु आवश्यक दस्तावेज

किसान अपनी उपज न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए ई-मित्र केंद्र एवं खरीद केंद्र पर जाकर अपना पंजीयन करा सकते हैं। इसके लिए किसानों निम्न दस्तावेज अपने साथ लेकर जाना होगा:-

  • जनआधार कार्ड नम्बर, 
  • खसरा गिरदावरी की प्रति 
  • बैंक पासबुक की प्रति
  • पंजीकृत मोबाइल नम्बर (जन आधार कार्ड से लिंक)

किसानों को यह दस्तावेज पंजीयन फार्म के साथ अपलोड करने होंगे। जिस किसान द्वारा बिना गिरदावरी के अपना पंजीयन करवाया जायेगा, उसका पंजीयन समर्थन मूल्य पर खरीद के लिये मान्य नहीं होगा। ई-मित्र केन्द्र भी समर्थन मूल्य योजना मे किसानों का पंजीयन पूर्ण सावधानी से करें और तहसील से बाहर पंजीयन नही करें।

इस भाव पर की जाएगी मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की खरीद

भारत सरकार द्वारा राजस्थान में समर्थन मूल्य पर मूंग का खरीद का लक्ष्य 3 लाख 2 हजार 745 मीट्रिक टन, उडद का 62 हजार 508 मीट्रिक टन, मूंगफली का 4 लाख 65 हजार 565 मीट्रिक टन तथा सोयाबीन का 3 लाख 61 हजार 790 मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य दिया गया है। जिसमें सरकार द्वारा एफ.ए.क्यू श्रेणी के लिए घोषित मूंग का समर्थन मूल्य 7 हजार 755 रूपये, उडद का 6 हजार 600, मूंगफली का 5 हजार 850 एवं सोयाबीन का 4 हजार 300 रूपये प्रति क्विंटल है, जिस पर ही खरीद केंद्रों पर खरीद की जाएगी।

यह भी पढ़ें   14 अक्टूबर से पांच दिनों के लिए आयोजित किया जायेगा अन्तर्राष्ट्रीय कृषि मड़ई एग्री कार्नीवाल 2022, किसानों को मिलेंगे यह लाभ

879 खरीद केंद्रों पर किसान बेच सकेंगे अपनी उपज

सहकारिता मंत्री ने बताया कि 879 खरीद केन्द्रों पर मूंग, उड़द, मूँगफली एवं सोयाबीन की खरीद की जाएगी। जिसमें मूंग के लिए 363 उड़द के लिए 166 मूंगफली के 267 एवं सोयबीन के लिए 83 खरीद केन्द्र खोले गए हैं। जिसमें से 419 केन्द्र क्रय-विक्रय सहकारी समितियों पर तथा 460 ग्राम सेवा सहकारी समितियों पर बनाए गए है।

किसान पंजीयन कराते समय यह सुनिश्चित कर ले कि पंजीकृत मोबाईल नम्बर से जनआधार कार्ड लिंक हो जिससे समय पर तुलाई दिनांक की सूचना मिल सके। किसान प्रचलित बैंक खाता संख्या सही दे ताकि ऑनलाइन भुगतान के समय किसी प्रकार की परेशानी न हो। किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए 27 अक्टूबर से हेल्प लाइन नम्बर 1800-180-6001 आरम्भ कर दिया जाएगा।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

3 लाख से अधिक नए किसानों को दिया जायेगा ब्याज मुक्त फसली ऋण

ब्याज मुक्त फसली ऋण का वितरणकृषि के क्षेत्र में निवेश के लिए केंद्र तथा राज्य सरकारें किसानों को सस्ता...

More Articles Like This

ऐप खोलें