29 अप्रैल से शुरू होगी चना, सरसों एवं मसूर की खरीदी

0
16367
chana masur sarso kharid

चना, सरसों एवं मसूर की खरीद

रबी फसल की सरकारी खरीदी शुरू हो हो चुकी है | इसके अंतर्गत गेहूं, चना, मसूर एवं सरसों तथा अन्य फसल की खरीदी केंद्र सरकार के द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जा रही है | कोविड–19 को ध्यान में रखते हुए खरीदी केंद्र पर किसानों को ज्यादा संख्या में एकत्र नहीं होने दिया जा रहा है | इसके लिए अलग – अलग राज्य सरकार ने किसानों को सिमित संख्या में एसएमएस करके बुला रही है | साथ ही कई राज्य सरकार सभी रबी फसलों की खरीदी एक साथ नहीं कर रहे हैं  | हरियाणा राज्य सरकार ने चना तथा सरसों की खरीदी 15 अप्रैल से किया तो गेहूं की खरीदी 20 अप्रैल से शुरू किया है |

वहीँ मध्य प्रदेश सरकार ने गेहूं की खरीदी 15 अप्रैल से शुरू कर दी है तो चना, सरसों तथा मसूर की खरीदी 29 अप्रैल से करने जा रही है | इसका मुख्य कारण यह है की खरीदी केंद्र पर किसानों की भीड़ जमा नहीं हो पायेगी | किसान समाधान गेहूं के अलवा चना, मसूर तथा सरसों की खरीदी की जाकारी लेकर आया है |

यह भी पढ़ें   बुआई से पहले जानियें क्या है इस वर्ष खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य

खरीदी किन फसलों की किया जाएगा

मध्य प्रदेश में 15 अप्रैल से गेहूं की खरीदी चल रही है जो 30 मई तक चलेगी | इसके साथ ही रबी की अन्य फसल चना, सरसों तथा मसूर की खरीदी राज्य में 29 अप्रैल से प्रारंभ की जा रही है | चना तथा मसूर की खरीदी राज्य के सभी जिलों में किया जाना है | इसके साथ ही कृषि प्रमुख सचिव ने बताया है कि राज्य के अधिकांश जिलों में सरसों कि खरीदी भी साथ में की जाएगी |

किसानों को भेजे जा रहे हैं एसएमएस

कृषि विभाग के प्रमुख सचिव श्री अजित केसरी ने चना, मसूर की खरीदी के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि इसके लिए एक मंडी हेतु प्रतिदिन 6–6 किसानों को एसएमएस भेजे जा रहे हैं | इससे लॉक डाउन एवं सोसल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकाल का पालन किया जाएगा | किसानों को रबी फसल को बेचने के लिए एसएमएस 3 दिन पहले भेजा जाएगा |

गेहूं, चना, सरसों तथा मसूर का न्यूनतम समर्थन मूल्य

केंद्र सरकार प्रति वर्ष रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय करता है जिसके आधार पर देश के सभी राज्य में रबी फसल की खरीदी किया जाता है | इस वर्ष का गेहूं, चना, सरसों तथा मसूर की न्यूनतम समर्थन मूल्य इस पारकर है :-

  • गेहूं – 1925 रूपये प्रति क्विंटल
  • चना – 4875 रूपये प्रति क्विंटल
  • मसूर – 4800 रूपये प्रति क्विंटल
  • सरसों – 4425 रूपये प्रति क्विंटल
यह भी पढ़ें   50 प्रतिशत की सब्सिडी पर करें सहजन (मोरिंगा) की खेती

मध्यप्रदेश में अभी तक गेहूं की कुल खरीदी

गेहूं खरीदी के बारे में जानकारी देते हुए खाद्ध, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोगता संरक्षण श्री शिव शेखर शुक्ल ने बताया कि प्रदेश के सभी उपार्जन केन्द्रों पर अभी तक 3 लाख 72 हजार किसनों से 16 लाख ७३ हजार एमटी गेहूं खरीदी गयी है | किसानों को त्वरित भुगतान के लिए 560 करोड़ रूपये की राशी बैंकों को भिजवा दी गई है, जिसमें से 36 करोड़ रूपये किसानों के खातों में पहुंच चुके हैं |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here