खरीफ सीजन में इस वर्ष इन फसलों का बढ़ाया जाएगा उत्पादन, सरकार ने जारी किए लक्ष्य

0
540
kharif crop 2022 cg

सरकार ने खरीफ सीजन के लिए जारी किए लक्ष्य

जून के पहले सप्ताह से खरीफ सीजन के लिए अलग-अलग फसलों की बुआई का काम शुरू हो जाएगा। किसान सुविधा तथा भौगोलिक आधार पर खरीफ फसलों की बुवाई करने लगेंगे। खरीफ सीजन 2022 के लिए सरकार ने भी तैयारियां शुरू कर दिया है। छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में खरीफ सीजन की बुवाई के लिए फसलों के बुवाई का लक्ष्य जारी कर दिए हैं।

राज्य सरकार के तरफ से जारी विज्ञप्ति के अनुसार राज्य में खरीफ 2022 में फसलों की कुल बुवाई का रक़बा 48 लाख 20 हजार हेक्टेयर होने जा रहा है| जो पिछले वर्ष से लगभग 55 हजार हेक्टेयर अधिक है | पिछले वर्ष राज्य में खरीफ सीजन में कुल 47 लाख 65 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बुआई की गई थी। सबसे बड़ी बात है यह है कि किसानों ने धान के बुआई के रकबे में कमी की जाएगी | राज्य में खरीफ सीजन में पिछले वर्ष के मुकाबले 5 लाख 35 हजार हेक्टेयर की कमी करने का लक्ष्य रखा है।

यह भी पढ़ें   जल्द किसानों के बैंक खातों में सीधे दी जाएगी खाद (उर्वरक) सब्सिडी

राज्य में धान की बुवाई का लक्ष्य क्या है ?

राज्य सरकार ने धान की खेती छोड़ अन्य फसलों की खेती करने पर किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत प्रति हेक्टेयर 10 हजार रुपए प्रति एकड़ का अनुदान दे रही है | योजना का असर राज्य में धान की बुवाई पर पड़ा है | राज्य में बीते खरीफ सीजन में 38 लाख 99 हजार 340 हेक्टेयर में धान की बोनी हुई थी | इस वर्ष खरीफ सीजन में धान की बुवाई का लक्ष्य कम होकर 33 लाख 64 हार 500 हेक्टेयर हो गया है। यानि पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष 5 लाख 35 हजार हेक्टेयर भूमि में धान की बुवाई कम कर दिया है |

अन्य फसलों का बुवाई का लक्ष्य क्या है ?

राज्य सरकार ने राज्य में धान के अलावा अन्य फसलों के भी लक्ष्य जारी कर दिए है | खरीफ सीजन 2022 में मक्का की बुवाई 3 लाख 14 हजार हेक्टेयर में होगी, जबकि बीते वर्ष राज्य में 2 लाख 5 हजार हेक्टेयर में मक्का लगाया गया था | कोदो, कुटकी और रागी का रकबा भी 82 हजार हेक्टेयर से बढ़कर एक लाख 47 हजार हेक्टेयर किया गया है | इस प्रकार राज्य में मोटे अनाज का रकबा भी 2 लाख 88 हजार हेक्टेयर से बढ़कर 4 लाख 60 हजार हेक्टेयर किया गया है। दलहनी फसलों का रकबा 4 लाख 48 हजार हेक्टेयर निर्धारित किया गया है, जबकि बीते खरीफ सीजन में 2 लाख 77 हजार हेक्टेयर में दलहनी फसलों की खेती की गई थी |

यह भी पढ़ें   वैज्ञानिकों ने विकसित किया बैटरी से चलने वाला ई-टैक्टर

राज्य में तिलहनी फसलों की बुवाई के रकबे में भी वृद्धि की गई है | इस खरीफ सीजन में तिलहनी फसलों की बुवाई का रकबा 2 लाख 67 हजार 700 हेक्टेयर कर दिया गया है | खरीफ सीजन 2021 में राज्य में एक लाख 66 हजार 670 हेक्टेयर में तिलहनी फसलों की बुवाई किया गया था | अन्य फसलों की बुवाई में 1.5 लाख हेक्टेयर में वृद्धि की गई है । वर्ष 2022 में अन्य फसल 2 लाख 83 हजार हेक्टेयर लगाए जाने का लक्ष्य है | पिछले वर्ष खरीफ सीजन में बोनी का रकबा 1 लाख 33 हजार हेक्टेयर था |

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.