17 अक्टूबर के दिन प्रधानमंत्री किसानों को जारी करेंगे 16,000 करोड़ रुपये की पीएम-किसान सम्मान निधि

पीएम-किसान सम्मान निधि किस्त

देश में किसानों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के लिए “प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना” चलाई जा रही है।इस योजना के तहत पात्र किसान परिवारों को प्रत्‍येक चार माह के अंतराल पर 2000 रुपये की तीन समान किश्तों में प्रति वर्ष 6000 रुपए का लाभ प्रदान किया जाता है। योजना के तहत अभी तक लाभार्थी किसानों को 11 किस्तें जारी की जा चुकी है। योजना की अगली किस्त यानी 12वीं किस्त 17 अक्टूबर को जारी की जाएगी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी 17 अक्टूबर को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली में लगभग 11:30 बजे दो दिवसीय कार्यक्रम “पीएम किसान सम्मान सम्मेलन 2022” का उद्घाटन करेंगे।

यह आयोजन देश भर के 13,500 से अधिक किसानों और 1500 एग्रीस्टार्टअप को एक साथ लाएगा। इस कार्यक्रम में 1 करोड़ से अधिक किसान वर्चुअल रूप से भाग लेंगे जिसमें 700 कृषि विज्ञान केंद्र, 75 आईसीएआर संस्थान, 75 राज्य कृषि विश्वविद्यालय, 600 पीएम किसान केंद्र, 50,000 प्राथमिक कृषि सहकारी समितियां और 2 लाख सामुदायिक सेवा केंद्र (सीएससी) जैसे विभिन्न संस्थान शामिल हैं।

आयोजन के दौरान किसानों को जारी की जाएगी 12वीं किस्‍त

- Advertisement -

पीएम किसान सम्मान सम्मेलन 2022 के आयोजन के दौरान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) के तहत प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के माध्यम से 16,000 करोड़ रुपये की 12वीं किस्‍त जारी करेंगे। इस योजना के तहत पात्र किसान परिवारों को दो-दो हजार रुपये की तीन समान किस्‍तों में 6000 रुपये प्रतिवर्ष का लाभ उपलब्‍ध कराया जाता है। अभी तक पात्र किसान परिवारों को पीएम-किसान के योजना के तहत 2 लाख करोड़ रूपये से अधिक का लाभ प्राप्‍त हो चुका है।

एक राष्ट्र एक उर्वरक योजना भी होगी शुरू

इस आयोजन के दौरान प्रधानमंत्री भारतीय जन उर्वरक परियोजना- एक राष्ट्र एक उर्वरक का भी शुभारंभ करेंगे। भारत सरकार उर्वरक कंपनियों के लिए ब्रांड नाम “भारत” के तहत उनकी वस्‍तुओं का विपणन करना अनिवार्य कर रही है ताकि देश भर में उर्वरक ब्रांडों का मानकीकरण किया जा सके, भले ही कोई भी कंपनी इसे बनाती हो। यह “भारत यूरिया, भारत डीएपी, भारत एमओपी, और भारत एनपीके हो सकता है। सभी उर्वरकों के लिए एकल ब्रांड ‘भारत’ के विकास से उर्वरकों की बेतरतीब आवाजाही कम हो जाएगी जो उच्च माल ढुलाई सब्सिडी का कारण है। पीएम एग्री-स्टार्टअप कॉन्क्लेव और किसान सम्मेलन, 2022 के भाग के रूप में माननीय प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम के दौरान “भारत यूरिया बैग” लॉन्च करेंगे।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
यहाँ आपका नाम लिखें

Stay Connected

217,837FansLike
829FollowersFollow
54,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

ऐप खोलें