राजस्थान में 15 लाख किसानों के बैंक खातों जमा की जाएगी पीएम किसान योजना की किश्त

2
5612
kisan samman nidhi rajasthan list
kisan app download

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना किश्त

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लागू हुए बहुत समय बीत चूका है और करोड़ों किसान ऐसे हैं जिन्हें पहली एवं दूसरी किश्त दोनों दी जा चुकी है परन्तु बहुत से किसानों तक अभी पहली किश्त भी नहीं पहुंची है | ऐसे में किसान चाहते हैं की उन्हें खरीफ मौसम से पहले किश्त मिल जाएँ सभी किसान इसका बहुत बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं | ऐसे भी किसान हैं जो आवेदन तो बहुत पहले कर चुके हैं परन्तु अभी तक उनकी कोई किश्त नहीं आई है | किसानों को किश्त मिलने में देरी चुनाव के कारण एवं राज्य सरकारों द्वारा किसानों का डेटा न भेजा जाना है परन्तु अब राजस्थान राज्य के किसानों का डेटा भेजा जा चूका है और राजस्थान के किसानों को दो दिनों के अन्दर पीएम किसान योजना की किश्तें दे दी जाएँगी |

राजस्थान में कितने किसानों को अभी दी जाएगी पीएम किसान योजना की किश्त

राजस्थान के रजिस्ट्रार, सहकारिता एवं पीएम किसान योजना के स्टेट नोडल अधिकारी डॉ नीरज के. पवन ने बताया कि प्रदेश के पात्र 15 लाख 20 हजार 233 किसानों के आवेदनों की जांच पूर्ण कर ली गई है और उन्हें केन्द्रीय पोर्टल पर अपलोड कर दिया गया है। आगामी दो दिवस में किसानों के बैंक खातों में पीएम किसान योजना की राशि जमा हो जायेगी। 6 जून से एसएमएफ पोर्टल सभी पात्र किसानों के लिये आवेदन करने हेतु खोला जा चुका है। किसान संबंधित नजदीकी ई-मित्र केन्द्र पर जाकर पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिये आवेदन कर सकता है। राज्य से इस योजना के लिये अबतक 38 लाख 10 हजार 80 किसानों ने आवेदन किया है। जिन किसानों द्वारा आवेदन के दौरान बैंक खाता नम्बर, आईएफएससी कोड आदि जानकारी गलत अपलोड कर दी थी, ऎसे किसान अब ई-मित्र केन्द्र पर जाकर ऎसी जानकारी को दुरस्त कर सकते हैं ताकि उनको भुगतान हो सके।

यह भी पढ़ें   15 जनवरी से ऋण माफ़ी के लिए आवेदन उपलब्ध

पीएम किसान योजना में कैसे देखें अपना नाम,क्या है हेल्पलाइन नंबर 

इस तरह की ताजा जानकरी विडियो के माध्यम से पाने के लिए किसान समाधान को YouTube पर Subscribe करें
kisan samadhan android app

2 COMMENTS

    • फसल बीमा कंपनी या अपने यहाँ के स्थानीय अधिकारीयों से बात करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here