चोटी बेधक (टाप सूट बोरर) कीट

0
816

चोटी बेधक (टाप सूट बोरर) कीट

(मार्च से सितम्बर)

इसका प्रकोप गन्ने की फसल में वृद्धि की सभी अवस्थाओं में होता है प्रभावित गन्ने में पत्तियों सूखकर डेड हार्ट बना देती है तथा गन्ने की मध्य सिरा में एक लाल धारी सी पड़ जाती है | विकसित गन्ने में झाड़ीनुमा सिरा (बन्ची टाप) बन जाती है |

प्रभावित फसल –

गन्ना, सब्जी

रोकथाम

चोटी बेधक के प्रकोप से ग्रस्त गन्ने को निकाल कर नष्ट कर देना चाहिए |

मार्च से जुलाई तक 15 दिन के अन्तराल पर ट्राइकोग्रामा कीलोनिस के 10 कार्ड प्रति हे. की दर से प्रयोग करना चाहिए

अथवा

  • रसायनिक नियंत्रण हेतु निम्नलिखित कीटनाशकों में से किसी एक का प्रयोग करना चाहिए |
  • क्लोरपाइरीफास 20 प्रतिशत ई.सी.1.5 ली. प्रति हे. 800 – 1000 ली. पानी में घोलकर छिड़काव करना चाहिए |
  • कार्बोफ्यूरान 3 प्रतिशत सी.जी. 30 किग्रा प्रति हे. की दर से बुरकाव करना चाहिए |
  • फोरेट 10 प्रतिशत सी.जी. 30 कि.ग्रा. प्रति हे. की दर से बुरकाव करना चाहिए |
यह भी पढ़ें   टिड्डी कीट नियंत्रण अभियान: ब्रिटेन से खरीदे जाएंगे स्प्रेयर, ड्रोन से किया जायेगा कीटनाशक का छिडकाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here