10 जुलाई तक किया जायेगा गन्ना किसानों को बकाया राशि का भुगतान

0
64
ganna kisan bhugtan

गन्ना किसानों को बकाया राशि का भुगतान

गन्ने की खेती करने वाले किसानों को अक्सर इस बात से शिकायत रहती है कि न तो उन्हें गन्ने के उचित दाम मिलते हैं और न ही उन्हें समय पर भुगतान किया जाता है | उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र एवं हरियाणा राज्यों के किसान यह शिकायत करते रहते हैं की चीनी मीलों के द्वारा समय पर भुगतान नहीं किया जा रहा है | ऐसे में हरियाणा सरकार ने गन्ना किसानों को 10 जुलाई तक सभी बकाया राशि का भुगतान करने का निर्णय लिया है | हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि गन्ना किसानों की बकाया राशि का भुगतान आगामी 10 जुलाई, 2021 तक शत-प्रतिशत कर दिया जाएगा।

पिराई सीजन 2020-2021 का किया जायेगा भुगतान

डॉ बनवारी लाल ने बताया कि हाल ही के पिराई सीजन 2020-2021 के दौरान सहकारी चीनी मिलों ने 429.35 लाख क्विंटल गन्ने की खरीद की है जिसकी कुल राशि 1500.83 करोड़ बनती है जिसमें से 1082.16 करोड़ रूपए की राशि गन्ना किसानों को दी जा चुकी है तथा शेष राशि आगामी 10 जुलाई तक अदा कर दी जाएगी । पिराई सीजन 2020-21 में 429.17 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई की गई जबकि पिराई सीजन 2019-20 में 371.86 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई की गई थी।

यह भी पढ़ें   इस वर्ष किसानों को 90 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर दिए जाएंगे 20871 स्प्रिंकलर सेट

वहीँ पिराई सीजन 2020-21 में 41.97 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया गया जबकि पिराई सीजन 2019-20 में 37.41 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया गया था। सहकारिता मंत्री ने बताया कि पिराई सीजन 2020-21 में 87.59 प्रतिशत क्षमता उपयोग किया गया जबकि पिराई सीजन 2019-20 में 86.13 प्रतिशत क्षमता उपयोग किया गया था। ऐसे ही पिराई सीजन 2020-21 में 36.08 करोड़ रूपए की 7.53 करोड़ यूनिट बिजली बेची गई जबकि पिराई सीजन 2019-20 में 32.19 करोड़ रूपए की 6.83 करोड़ यूनिट बिजली बेची गई थी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here