इस वर्ष इस राज्य को प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दिया जाएगा कृषि कर्मण पुरस्कार

2
2827
krishi karman award 2019-20

कृषि कर्मण पुरस्कार 2019-20

देश कृषि क्षेत्र में लगातार अग्रसर है प्रत्येक वर्ष कृषि क्षेत्र में नए नए कीर्तिमान बनायें जा रहे है | इस क्षेत्र में उत्पादन में सभी राज्यों का योगदान रहता है | देश में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा विभिन्न योजनायें चलाने का मुख्य लक्ष्य ही यही होता है की किसी तरह उत्पादन क्षमता को बढाया जाये | सभी राज्य सरकारें इसी क्षेत्र में ही काम करती है क्योंकि इससे किसानों की स्थिति में भी सुधार आएगा | केंद्र सरकार द्वारा इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए राज्य सरकारों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से कृषि कर्मण पुरस्कार की शुरुआत की गई है  | जो भी राज्य कृषि क्षेत्र में विभन्न फसलों में अधिक उत्पादन करता है उसे यह पुरुस्कार दिया जाता है इसके अतिरिक्त इस योजना में पुरस्कार प्राप्त करने के लिए और भी कई पहलू होते हैं |

बिहार के द्वारा मक्का तथा गेहूं के क्षेत्र में लगातार उत्पादन के साथ ही उत्पादकता में बढ़ोतरी दर्ज की गई  है | केंद्र सरकार के तरफ से बिहार को पुरस्कृत किया जा रहा है | यह पुरस्कार इसी माह बंगलोर में दिया जा रहा है | जिसमें देश के प्रधानमंत्री बिहार के मुख्यमंत्री को कृषि कर्मण पुरस्कार देंगें इसकी पूरी जानकारी इस तरह है |

यह भी पढ़ें   सबसे बड़ी खबर ! मध्यप्रदेश के किसानों का हुआ लोन माफ़

कृषि कर्मण पुरस्कार क्यों दिया जा रहा है ?

प्रत्येक वर्ष कृषि कर्मण पुरस्कार दिया जाता है | यह पुरस्कार कृषि क्षेत्र में एक या एक से अधिक फसल के उत्पादन के लिए दिया जाता है | वर्ष 2016 – 17 के लिए मोटे अनाज की श्रेणी में मक्का तथा वर्ष 2017 – 18 के लिए गेहूं श्रेणी में उत्कृष्ट प्रदर्शन हेतु कृषि कर्मण पुरस्कार के लिए बिहार का चयन किया गया है |

कृषि कर्मण पुरस्कार में क्या दिया जायेगा ?

बिहार कृषि विभाग को गेहूं तथा मक्का के देश में सार्वधिक उत्पादन के लिए कृषि कर्मण पुरस्कार भारत के प्रधानमंत्री के द्वारा दिया जायेगा | इस पुरस्कार के अंतर्गत 02–02 करोड़ रूपये की धनराशि ,ट्राफी तथा प्रशस्ति पत्र दिया जायेगा |

पुरस्कार कब दिया जायेगा ?

कृषि कर्मण पुरस्कार 03 जनवरी 2020 को बंगलोर में आयोजित समारोह में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा प्रदान किया जायेगा | इसके लिए देश के कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर के द्वारा पुरस्कार प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री तथा कृषि मंत्री, सचिव, कृषि विभाग एवं कृषि निदेशक, बिहार को आमंत्रित किया गया है |

यह भी पढ़ें   चना, मसूर, सरसों की खरीदी समर्थन मूल्य पर

मक्का तथा गेहूं में क्या रहा बिहार का उत्पादन

वर्ष 2016–17 में मक्का का कुल उत्पादन 38.46 लाख मेट्रिक टन तथा उत्पादकता 53.35 क्विंटल प्रति हेक्टेयर दर्ज की गई है जो एक रिकार्ड है | वर्ष 2016 – 17 में राज्य में मक्का का उत्पादकता राष्ट्रीय स्तर पर सार्वधिक हुआ है | वर्ष 2016 – 17 में राज्य के मुख्य फसलों के उत्पादन एवं उत्पादकता के आकड़ों के अनुसार राज्य में कुल खाधन्न का उत्पादन 185.61 लाख मेट्रिक टन हुआ | साथ ही, वर्ष 2017 – 18 में राज्य में गेहूं का कुल उत्पादन 61.04 लाख मेट्रिक टन तथा उत्पादकता 29.05 किवंटल प्रति हेक्टेयर दर्ज की गई है | वर्ष 2017 – 18 में राज्य के मुख्य फसलों के उत्पादन एवं उत्पादकता के आकड़ों के अनुसार राज्य में कुल खाधान्न का उत्पादन 178.03 लाख मेट्रिक टन हुआ है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here