अभी सोयाबीन की फसल में लग सकते हैं यह कीट एवं रोग, किसान इस तरह करें उनका नियंत्रण

473

सोयाबीन में लगने वाले कीट एवं रोगों का नियंत्रण

समय-समय पर सोयाबीन की फसल में लगने वाले कीट एवं रोगों से सोयाबीन की पैदावार में कमी आती है, जिसका सीधा असर किसानों की आमदनी पर पड़ता है। ऐसे में किसानों के लिए आवश्यक है की वह समय पर इन कीट एवं रोगों की पहचान कर उनका नियंत्रण कर सकें ताकि फसल को नुक़सान से बचाया जा सके। सितंबर महीने में सोयाबीन की फसल में मुख्यतः निम्न कीट एवं रोग लगते हैं:-

सोयाबीन की फसल में लगने वाले कीट 

  • चक्र भृंग Girdle Beetle
  • तम्बाकू की इल्ली Tobacco Caterpillar
  • चने की इल्ली Gram Pod Borer
  • सेमीलूपर या अर्धकुण्डलाकार इल्ली Green Semilooper

सोयाबीन की फसल में लगने वाले रोग

  • पीला मोजेक रोग या पीलिया रोग Yellow Mosaic Virus 
  • जीवाणु झुलसा रोग 
  • रायजोक्टोनिया एरिअल ब्लाइट रोग

किसान इन कीट एवं रोगों की पहचान किस तरह करें एवं उनके नियंत्रण के लिए कौन सी कीटनाशक रासायनिक दवाओं का उपयोग किसान कर सकते हैं। इसकी जानकारी किसान ऊपर विडीओ में देख सकते हैं। सोयाबीन में कीट एवं रोगों के बारे में अधिक जानकारी के लिए किसान नीचे कॉमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

यह भी पढ़ें   डेयरी योजना से इस किसान की आय हुई 6 लाख रुपये सालाना
पिछला लेखकिसानों को फ्री में दिए जाएँगे सरसों एवं रागी के उन्नत किस्मों के प्रमाणित बीज
अगला लेखकिसानों को जल्द मिलेगा फसल नुकसान का मुआवजा, सरकार ने जारी की राशि

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.