बुधवार, फ़रवरी 21, 2024
होमकिसान समाचार4 स्टार मोटर के लिए भी किसानों को दिए जाएंगे नए ट्यूबवेल...

4 स्टार मोटर के लिए भी किसानों को दिए जाएंगे नए ट्यूबवेल कनेक्शन

नए ट्यूबवेल कनेक्शन मोटर रेटिंग

किसानों को नए ट्यूबवेल कनेक्शन लेने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है | आवेदन किये जाने के बाबजूद भी किसानों को लम्बे समय तक नए कनेक्शन नहीं मिल पाते हैं | ऐसे में किसान फसलों की सही समय पर सिंचाई नहीं हो पाती है और उन्हें काफी नुकसान होता है | कई बार किसानों के द्वारा किये गए आवेदन रिजेक्ट कर दिए जाते हैं | ऐसे में  हरियाणा सरकार ने प्रदेश के किसानों को राहत देते हुए निर्णय लिया है कि अब वे मोनोब्लॉक मोटर के मामलों में फ़ाइव स्टार रेटिंग मोटर के बजाय 4 स्टार मोटर भी बाजार से स्वयं खरीद सकते हैं  तथा सरकार की अन्य शर्तों के अनुरूप होने पर उन्हें ट्यूबवेल कनेक्शन जारी कर दिया जाएगा।

4 स्टार या उससे अधिक की मोटर पर नये कनेक्शन

बिजली तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री रणजीत सिंह ने कहा कि फाइव स्टार मोनोब्लाक मोटर बनाने वाली कंपनी ने इसका विनिर्माण बंद कर दिया है इसलिए अब प्रदेश में किसानों के लिए 4 स्टार या इससे ऊपर की मोटर के साथ भी ट्यूबवेल कनेक्शन का विकल्प होगा। राज्य में 82 हजार लोगों ने ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए आवेदन किया था जिसमें से अब तक 9039 लोगों ने पूरा भुगतान किया है। इन 9039 आवेदकों में से विभाग द्वारा 7421 लोगों का सर्वे करवाया जा चुका है जिसमें से 6194  सब्मर्सिबल मोटर एवं 1227 मोनोब्लॉक मोटर है।

यह भी पढ़ें   सरकार ने पशुपालन क्षेत्र के लिए लॉन्च की अब तक की पहली ऋण गारंटी स्कीम

विभाग के पास 4868 फाइव मोटर उपलब्ध थी जिसमें से 1728 कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। शेष लगभग 2000 लोगों का सर्वे करवाया जा रहा है। इनमें से जो लोग मोनोब्लॉक मोटर लेना चाहते हैं वे यह मोटर ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि चूंकि फाइव स्टार मोटर का विनिर्माण बंद हो चुका है इसलिए जो लोग मोनोब्लॉक की बजाय फाइव स्टार मोटर को ही प्राथमिकता देंगे उनका पैसा ब्याज समेत वापस कर दिया जाएगा।

घरेलू कनेक्शन पर भी दी जाएगी राहत

बिजली मंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण बिल औसत आधार पर भेजे गए थे। इसलिए जिस किसी भी उपभोक्ता का बिल अधिक आया है उसे अगले बिल में एडजस्ट कर दिया जाएगा। अब सभी कैश काउंटर खोल दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि छोटे उद्योगों के लिए 10 हजार रुपये के फि़क्स्ड चार्जेज़ हैं जो पूरी तरह से माफ कर दिए गए हैं। इसी तरह जिनकी फि़क्स्ड चार्जेज़ राशि 40 हजार रुपये तक निर्धारित थी उनकी 25 प्रतिशत राशि माफ की गई है। शेष राशि का भुगतान उपभोक्ता अगस्त से दिसंबर तक मासिक किस्तों में कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें   खजूर का बगीचा स्थापित करने के लिए सरकार दे रही है 75 प्रतिशत तक का अनुदान, जल्द करें आवेदन

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

Trending Now

डाउनलोड एप