back to top
मंगलवार, मई 21, 2024
होमकिसान समाचारमौसम विभाग ने की भविष्यवाणी, इस दिन केरल पहुँचेगा मानसून

मौसम विभाग ने की भविष्यवाणी, इस दिन केरल पहुँचेगा मानसून

Weather Update: मानसून आने का पूर्वानुमान

हर साल की तरह इस साल भी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग IMD ने केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून आने की तारीख की भविष्यवाणी कर दी है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक़ इस साल मानसून सामान्य तारीख से एक दिन पहले ही यानि की 31 मई के दिन केरल में दस्तक दे सकता है। वैसे केरल में मानसून आने की सामान्य तारीख 1 जून है। मौसम विभाग ने 15 मई, बुधवार देर रात यह अनुमान जारी किया है। घोषित तारीख में 4 दिन कम या ज्यादा होने की गुंजाइश रखी गई है। यानी मानसून 28 मई से 3 जून के बीच कभी भी केरल पहुंच सकता है।

मौसम विभाग के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में अंडमान सागर और द्वीप समूह पर मानसून के दो दिन पहले यानी 19 मई को ही पहुंचने की संभावना है, जबकि वहां दस्तक देने की सामान्य तारीख 21 मई है। पिछले साल भी मानसून ने अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में 19 मई को ही दस्तक दी थी, लेकिन केरल में 9 दिन देरी से 8 जून को पहुंचा था। मौसम विभाग के अनुसार यदि वर्ष 2015 को छोड़ दिया जाये तो पिछले 19 वर्षों में उसके द्वारा जारी भविष्यवाणी लगभग सही साबित हुई है।

यह भी पढ़ें   किसान अधिक मुनाफे के लिए इस गर्मी के मौसम में लगाएं सूरजमुखी की यह नई उन्नत किस्में

किस राज्य में कब दस्तक देगा मानसून

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के 19 मई तक अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में प्रवेश करने की उम्मीद है। इसके बाद 1 जून के बीच यह केरल पहुंचेगा। मानसून के बंगाल की खाड़ी से मुख्य भूमि भारत की ओर बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हो गई हैं इसलिए अनुमान है कि 19 मई तक मॉनसून भारत की सीमा में प्रवेश कर जाएगा। यदि मानसून की प्रगति में कोई रुकावट ना रही तो मानसून सामान्यतः इन तारीख़ों को विभिन्न राज्यों में दस्तक दे सकता  है।

  • 5 जून तक केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, गोवा और पूर्वोत्तर राज्यों को कवर कर लेगा।
  • 10 जून तक मानसून महाराष्ट्र, तेलंगाना राज्य के अधिकांश हिस्सों को कवर कर लेगा।
  • 15 जून तक मानसून गुजरात, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार राज्यों में प्रवेश करेगा।
  • 20 जून तक मानसून मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों को कवर करते हुए उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड में प्रवेश कर जाएगा।
  • 25 जून तक मानसून आगे बढ़ते हुए राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर और लद्दाख में प्रवेश करेगा।
  • 30 जून को मानसून गुजरात को पूरा कवर करते हुए पंजाब, हरियाणा, दिल्ली में प्रवेश करके अधिकांश हिस्सों को कवर कर लेगा।
  • सामान्य स्थिति में 8 जुलाई तक मानसून लगभग पूरे देश को कवर कर लेता है।
यह भी पढ़ें   फसल के अच्छे उत्पादन में सल्फर का महत्व और कमी के लक्षण, किसान कैसे दूर करें सल्फर की कमी को

इस साल होगी अच्छी बारिश

मौसम विभाग इससे पहले ही इस वर्ष मानसूनी सीजन में सामान्य से अधिक वर्षा होने की कि भविष्यवाणी कर चुका है। मौसम विभाग के मुताबिक़ जून से सितंबर तक पूरे देश में मानसूनी वर्षा लॉन्ग पीरियड एवरेज (LPA) का 106 प्रतिशत होने की संभावना है। जिसमें ± 5 प्रतिशत की संभावित त्रुटि हो सकती है। इसके बाद मौसम विभाग मई 2024 के अंतिम सप्ताह में मानसून सीजन की बारिश के लिए अपना दूसरा पूर्वानुमान जारी करेगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर