तीन दिनों के अन्दर कर दिया जायेगा टिड्डी कीट का सफाया

0
1509
views
tiddi keet niyantran raj

टिड्डी कीट नियंत्रण की ताजा स्थिति

ठंड बढ़ने के बाद टिड्डी पर नियंत्रण खुद हो जाता था लेकिन इस बार अधिक ठंड होने के बाद भी टिड्डी पर नियंत्रण नहीं हो पाया है | इसके लिए राजस्थान सरकार नियंत्रण के लिए युद्ध स्तर पर लगी हुई है | लम्बे समय के बाद यह खबर अब आने लगी है की टिड्डी पर नियंत्रण 2 से 3 दिन में कर लिया जायेगा | जहाँ राज्य सरकार ने टिड्डी नियंत्रण के लिए किसानों को कीटनाशक रासायन फ्री में दिया जा रहा है तो दूसरी तरफ राज्य सरकार की तरफ से टिड्डी नियंत्रण के लिए 10 वाहन प्रत्येक जिलों में संचालित किये जा रहे हैं |

कृषि विभाग के उपनिदेशक श्री राधेश्याम नरवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि टिड्डियों का पूरी तरह सफाया करने के लिए अभी 2 से 3 दिन और युद्ध स्तर पर अभियान जारी रहेगा | कृषि विभाग और टिड्डी नियंत्रण विभाग तथा किसानों की सराहनीय भागीदारी के चलते जिले में टिड्डियों पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है |

टिड्डी नियंत्रण कार्यवाही का पूरा फोकस अब टिड्डियों के समूह उन्मूलन पर केन्द्रित है और इस दिशा में हर स्तर पर कार्यवाही जारी है | सर्वे टीमें लगातार ग्रामीण क्षेत्रों में भ्रमणरत है तथा टिड्डी नियंत्रण के लिए 10 नियंत्रण वहन निरन्तर सेवाएं दे रहे हैं |

जिला कलेक्टर ने किसानों से किया आग्रह

जैसलमेर जिला कलेक्टर श्री नमित मेहता ने जिले में टिड्डी नियंत्रण के साझा और सफल प्रयासों पर संतोष व्यक्त किया और किसानों से आग्रह किया है कि आगामी 3–4 दिन और टिड्डी नियंत्रण गतिविधियों में अपनी पूरी–पूरी भागीदारी निभाएं ताकि टिड्डियों का खत्म किए जा सके |

कृषि विभाग ने रसायनों के प्रयोग की अवधि बढाई

कृषि विभाग भी टिड्डियों के पूरी तरह खात्मे पर अपनी कार्यवाही को फोकस किया है | राजस्थान के कृषि आयुक्त डा. ओमप्रकाश ने टिड्डी प्रभावित क्षेत्रों में फसलों को टिड्डियों से बचाने के लिए कीटनाशी रसायनों के उपयोग की अवधि अग्रिम आदेश तक बढ़ा दी है | पहले यह अवधि 7 जनवरी तक hi निर्धारित थी | कृषि आयुक्तालय द्वारा जारी आदेश के अनुसार अब कीटनाशी रसायनों के उपयोग की अवधि अग्रिम आदेशों तक अथवा टिड्डियों का प्रकोप रहने तक किए जाने की स्वीकृति दी गई है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here