अगर आप लोन लेकर बकरी पालन करना चाहते हैं तो जरुर पढ़े |

7
10608
views

बकरी पालन लोन:– बकरी पालन पर नाबार्ड लोंन देता है | आप सोंच रहे होंगे की नाबार्ड लोंन कैसे देता है | आज आप को वह सब कुच्छ बताया  जिससे आप को मालूम चल सकेगा की बैंक से बकरी  पालन के लिए लोंन कैसे मिलेगा | अक्सर आप सुनते होंगे की सरकार के किसी योजना पर बैंक लोंन देता है लेकिन किसान या बकरी पालने वाले व्यक्ति जब बैंक जाता है तो बैंक से खाली हाथ लौटा आता है | बैंक के किसी अधिकारी से बात करने पर बताता है की इस तरह की कोइ योजना नहीं है | फिर सोचते है की यह सब सरकार की योजना केवल दिखावे के लिए है |

सबसे पहले यह जाने की पैसा कहाँ से आता है | नाबार्ड भारत के किसानो की योजना बनाकर सरकार को देता है और सरकार इस योजना को को क्रियांवय कर रिजर्व बैंक को पैसे के स्वीकृति के लिए लिखित आदेस देता है | रिजर्व बैंक वह पैसा नाबार्ड को देता है | कई बार हम सभी सुनते है की नाबार्ड की योजना है और नाबार्ड लोंन दे रहा है | नाबार्ड की योजना तो रहता है  , लेकिन नाबार्ड सीधे रूप से किसानों से नहीं जुड़ा रहता है | नाबार्ड अपना कम राष्ट्रीय बैंक से करता है जंहा पर किसान सीधे रूप से बैंक से जुड़े रहते हैं |

यह भी पढ़ें   40,000 रु.की सब्सिडी प्राप्त कर अपने खेतों की तारबंदी करें

किसान को लोंन कैसे मिलेगा :-

सबसे पहले किसान को किसी भी राष्ट्रीय बैंक में एक करंट एकाउंट होना चाहिए | यह एकाउंट करीब एक साल पुराना तथा एकाउंट बकरी पालन के किसी नाम से  होना चाहिए | उस एकाउंट में बकरी के खरीद बिक्री का कम से कम एक साल का लेनदेन होना चाहिए | अगर एक साल का रिटर्न फाइल है तो अच्छा है |इस के बाद आप बैंक में जाएँ तो बैंक अधिकारी आप को आपके बैंक के लेनदेन के आधार पर आप को उतना पैसा आवंटित करेगा | नाबार्ड कहता है की न्यू कमर्स को लोंन देगा लेकिन राष्ट्रीय बैंक न्यू कामर्स को नहीं देता है | एसा इस लिए राष्ट्रीय बैंक करता है की बैंक का पैसा डूब नही जाये | यानि नाबार्ड का न्यू कामर्स का मतलब ही यही होता है की पहले आप अपने पैसे से बकरी पालन करे उसके बाद बैंक में जाकर लोंन की अप्लाई करें |

तो किसान क्या करें –

किसान बिना देर किये सबसे पहले अक current accoucent किसी भी नाम से किसी भी राष्ट्रीय बैंक में खोले | और उस बैंक से लेनदेन करे | यानि पैसे की निकासी तथा पैसे की जमा एक साल तक करें |

यह भी पढ़ें   मार्च माह में किसान भाई क्या करें

7 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here