कर्ज माफी के दूसरे चरण में इस जिले के 1,134 किसानों के किये गए लोन माफ

0
16726
kisan karj maafi dusara charan taja jankari

किसान कर्ज माफी ताजा जानकारी

किसानों के लिए कृषि लोन माफ़ी पहली प्राथमिकता है | किसानो की ऋण माफी की घोषणा घोषणा किये हुए एक वर्ष से ज्यादा हो गया है परन्तु अभी तक सभी किसानों के कर्ज माफ़ नहीं किये गए हैं | ऐसा नहीं है कि किसी भी किसान का लोन माफ़ी नहीं हुआ है किसानों की लोन माफ़ी चरणवद्ध तरीके से की जा रही  है | मध्य प्रदेश में जहाँ पहले चरण में 20 लाख 22 हजार 731 पात्र किसानों के 7,154 करोड़ 36 लाख रूपये के ऋण माफ़ किये गये हैं | दुसरे चरण में 12 लाख 2 हजार 78 ऋण खाताधारक किसानों के ऋण माफ़ किये जाना है |

मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश के किसानों की लोन माफ़ी का दूसरा चरण शुरू कर दिया है | इस कृषि लोन माफ़ी में 1 लाख रूपये तक का लोन माफ़ किया जा रहा है| यह लोन माफ़ी सभी बैंकों के  किसानों के द्वारा लिए गये कृषि ऋण को माफ़ किया जाएगा |

यह भी पढ़ें   फसलों के बीच लेमन ग्रास की खेती कर किसान कर रहे हैं लाखों रुपये की अतिरक्त आमदनी

मुख्यमंत्री ने किसानों को दिए प्रमाण पत्र

कल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ सतना जिले में थे | जिले में दुसरे चरण में कृषि लोन माफ़ किये गये एवं किसानों को ऋण माफ़ी के प्रमाणपत्र भी दिए गए | जय किसान फसल ऋण माफ़ी योजना के दुसरे चरण में सतना जिले के 1,134 किसानों को मुख्यमंत्री के द्वारा ऋण माफ़ी के प्रमाण–पत्र वितरित किये गए हैं |

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा की किसानों को उनकी उपज का सही मूल्य दिलाने के लिए काम किया जा रहा है | श्री कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश की 70 प्रतिशत आबादी कृषि क्षेत्र से जुडी है | इसलिए सरकार कृषि के क्षेत्र को समृद्ध बनाने के लिए कृत–संकल्पित है |

बताते चलें की मध्य प्रदेश में जय किसान योजना के तहत किसानों की लोन माफ़ी की जा रहा है | इस लोन माफ़ी की घोषणा दिसम्बर 2018 में किया गया था | इसके तहत मार्च 2018 तक किसानों के द्वारा लिए गये कृषि लोन को माफ़ किया जाना था | इस लोन माफ़ी में 2 लाख रूपये तक का कृषि लोन सभी बैंकों का माफ़ करने की योजना है |

यह भी पढ़ें   गन्ना किसानों के बकाया भुगतान के लिए जारी की गई  5,534 करोड़ रूपये की राशि

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here