कल से आपके बैंक खाते में आने लगेगा कर्ज माफी का पैसा

0
3819
बैंक खाते में आने लगेगा कर्ज माफी का पैसा

फसल ऋण माफी योजना की राशि का भुगतान

पूर्व से तय समय के अनुसार कृषि लोन का पैसा किसानों के खातों में दिया जा रहा है | इसके लिए राज्य सरकार ने किसानों का पूरा डाटा तैयार कर लिया है | कल 22/02/2019 से कृषि लोन का पैसा सीधे किसानों को खाते में दिया जायेगा | यह पैसा 22 फरवरी से 1 मार्च तक सहकारी , ग्रामीण , राष्ट्रीय बैंकों के खातों में ट्रांसफर कर दिया जायेगा |

कितने किसानों को लाभ मिलेगा ?

मध्य प्रदेश सरकार जय किसान फसल ऋण माफ़ी योजना के अनुसार सभी पात्र किसानो का दावा राशी स्वीकृत किया है | इसके लिए मध्य प्रदेश के सहकारी, ग्रामीण, राष्ट्रीय बैंकों द्वारा 20 फ़रवरी को प्रात: 8 बजे तक 20.28 लाख फसल ऋण खातों की प्राविधिक दावा स्वीकृति की गई है | 1 लाख 89 हजार दावे अंतिम रूप से भुगतान हेतु स्वीकृत कर दिये गये हैं | इनमे से मंगलवार रात्रि 8 बजे से आज सुबह 8 बजे की अवधि में 87 हजार दावे भुगतान हेतु अंतिम रूप से स्वीकृत किये गये हैं |

यह भी पढ़ें   अभी समर्थन मूल्य पर धान खरीदी कर शेष राशि 685 एवं 665 रुपये का सरकार किसानों को देगी बोनस

किसानों को लोन माफ़ी का प्रमाण पत्र दिया जायेगा

राज्य शासन के निर्णयानुसार 25 फरवरी से एक मार्च तक प्रदेश की 383 ग्रामीण तहसीलों में तहसील स्तर पर किसान सम्मेलन किये जाएंगे | सम्मेलन में चालू ऋण खाता धारक किसानों को कालातीत फसल ऋण माफ़ी के प्रकरणों में ऋण माफी पत्र प्रदान किये जाएंगे | जिले के प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति के अनुमोदन के बाद संबंधित बैंक में योजना के प्रवधान के अनुसार राशि जमा कराई जायेगी |

तहसील स्तर पर आयोजित किसान सम्मलेन में किसानों को सम्मान ताम्रपत्र एवं फसल ऋण माफ़ी प्रमाण – पत्र वितरित किये जाएंगे | जो किसान कार्यक्रम में उपस्थित नहीं हो पाएंगे, उन्हें पात्रतानुसार किसान सम्मान ताम्रपत्र तथा फसल ऋण माफ़ी पत्र उनके निवास पर मैदानी अमले द्वारा अनिवार्यत: पहुँचाने के निर्देश दिये गए हैं |

कितनी राशि दी जा रही हैं 

जैसा की मालूम है की मध्य प्रदेश में 17 दिसम्बर को राज्य के सभी किसानों को 2 लाख रुपया का लोन माफ़ किया गया है | यह लोन माफ़ी की घोषणा सहकारी बैंक, ग्रामीण बैंक, राष्ट्रीय बैंक के खाता धारक किसानों का था | इस लोन माफ़ी योजना के तहत प्रदेश के लगभग 1 लाख 89 हजार खाता धारकों के द्वारा दावा किया गया है | लोन माफ़ी से परदेश सरकार पर 55 हजार करोड़ रुपया का अतरिक्त भर पद रहा है |

यह भी पढ़ें   कृषि बिल Farm BiLL 2020 को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी, अब कृषि बिल बन गए कानून

ऋण माफ़ी का लाभ लेने के लिए किसानों को 15 जनवरी से 31 जनवरी तक लोन माफ़ी का फार्म भरना था | जिस किसान ने लोन माफि का फार्म भरा था उसे इस योजना का लाभ दिया जा रहा है | यह देश की पहली लोन माफ़ी है जिसमें डिफाल्टर तथा नॉन डिफाल्टर दोनों किसानों को शामिल किया गया है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here