पीएम किसान योजना में तीनों किस्त लेने के लिए आधार कार्ड जोड़ने की आखरी डेट बढाई गई

0
7325
kisan app download

पीएम किसान योजना में किसान तीनों किस्त लेने के लिए जल्द जोड़ें आधार कार्ड

PM-Kisan | प्रधानमंत्री किसान योजना में किसान स्वयं आवेदन कैसे करें | किसान आवेदन कैसे सुधारें |

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लागू हुए 8 महीने हो चुके हैं परन्तु अभी तक इस योजना के तहत लगभग सिर्फ आधे किसानों को ही जोड़ा जा सका है | यह आधे किसान वह हैं जिन्हें अभी तक एक भी किस्त नहीं दी गई है बाकी जो आधे किसान हैं उनमें से कुछ किसानों को 1 क़िस्त कम से कम दी जा चुकी है | वह किसान भी दूसरी एवं तीसरी क़िस्त की राह देख रहें हैं | देश में किसानों को अभी तक पीएम किसान योजना में दी गई कुल किस्त 

  1. पहली किस्त- 6 करोड़ 76 लाख 89 हजार 644 किसान
  2. दूसरी किस्त – 5 करोड़ 14 लाख 20 हजार 802 किसान
  3. तीसरी किस्त – 1 करोड़ 74 लाख 20 हजार 230 किसान

किसानों को क़िस्त न दिए जाने के कुछ महत्वपूर्ण कारण यह है की उनका आवेदन अभी तक केंद्र सरकार के पास नहीं पहुंचा है या उनके आवेदन में कुछ गलतियाँ पाई गई हैं जैसे आधार कार्ड का नम्बर नाम से नहीं मिलाना, बैंक अकाउंट एवं IFSC कोड गलत होना है | इसके लिए किसानों को मेसेज भी आ रहे हैं |

पहले क्या था आधार कार्ड जोड़ने के के लिए नियम

इस योजना के तहत 1 अगस्त, 2019 के बाद उन लाभार्थियों को तीसरी किस्त जारी की गई, जिन्हें दिसम्बर, 2018- मार्च, 2019 के दौरान पहली किस्त प्राप्त हुई थी तथा अप्रैल-जुलाई, 2019 को उन लाभार्थियों को दूसरी किस्त प्राप्त हुई थी। यह धनराशि केवल बैंक खातों के आधार संख्या से जुड़े होने के आधार पर जारी की गई थी। इसी तरह 1 अगस्त, 2019 के बाद उन लोगों को दूसरी किस्त जारी की गई, जिन्हें अपनी पहली किस्त अप्रैल-जुलाई, 2019 को केवल बैंक खातों के आधार संख्या से जुड़े होने के आधार पर प्राप्त हुई थी। शेष लाभार्थियों को 1 अगस्त, 2019 को पहली किस्त केवल बैंक खातों के आधार संख्या से जुड़े होने के आधार पर दी जानी थी। असम, मेघालय और जम्मू कश्मीर के किसान, जहां आधार की व्यापक पैठ संभव नहीं हो सकी है, उन्हें 31 मार्च, 2020 तक इस आवश्यकता से छूट प्रदान की गई है।

यह भी पढ़ें   वेयर हाउस, शीत भंडार गृह, मशरूम उत्पादन इकाई सब्सिडी पर बनवाने के लिए आवेदन करें

अब किसान कब तक पीएम किसान योजना के तहत जोड़ सकेगें आधार

1 अगस्त, 2019 के बाद लाभार्थियों को लाभ जारी करने के लिए बैंक खातों के आधार संख्या से जुड़े होने की अनिवार्यता में 30 नवंबर, 2019 तक छूट प्रदान की गई है। इससे बड़ी संख्या में उन किसानों को तत्काल धनराशि जारी की जा सकेगी, जो इस अनिवार्यता की वजह से यह लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं। लाभ जारी करने के लिए यह अनिवार्यता 1 दिसम्बर, 2019 के बाद से लागू हो जाएगी। सरकार भुगतान करने से पहले इस आंकड़े की वैद्यता के लिए उचित उपाय करेगी।

आधार कार्ड जोड़ने की आखरी डेट बढ़ने से किसानों को क्या लाभ होगा

जैसा किसान ऊपर देख चुके हैं 1 क़िस्त मिलने के बाद उन्हें अन्य किस्तें नहीं दी गई है क्योंकि उनके आधार कार्ड या तो जोड़े नहीं गए हैं या उनके आधार में गलती है ऐसे किसानों को भी अब जल्द ही दूसरी एवं तीसरी क़िस्त दी जाएगी | वही अभी जिन किसानों के आवेदन जमा नहीं किये गए हैं वह जल्द ही आवेदन जमा करें अन्यथा उन्हें अभी किस्तों का इन्तजार करना होगा |

यह भी पढ़ें   किसानों को इस वित्त वर्ष भी दिया जायेगा शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि लोन

आधार कार्ड नम्बर एवं नाम गलत होना

राज्य सरकार द्वारा जो किसानों के नाम भेजे गए हैं उनमें बहुत से किसानों के नाम उनके आधार कार्ड पर दिए गए नाम से अलग हैं जिसके कारण उनकी क़िस्त रुकी हुई है | पीएम किसान पोर्टल पर किसान आवेदन करते समय उसके आधार कार्ड में उल्लेखित नाम को ही लिखे क्योंकि केन्द्र सरकार द्वारा किसान के नाम का उसके आधार कार्ड में मिलान होने पर ही उसके खाते में राशि जारी कर रही है। अतः जिन किसानों को एसएमएस द्वारा सूचित किया जा रहा है वे किसान संशोधन के साथ पीएम किसान पोर्टल पर आधार में उल्लेखित नाम को अपडेट करे।

बैंक अकाउंट नम्बर एवं IFSC कोड गलत होना

राज्य सरकारों द्वारा जो आवेदन भेजे गए हैं उनमें से बहुत से किसानों के बैंक अकाउंट नम्बर में गलतियाँ पाई गई हैं अतः वह किसान जल्द ही यह गलतियों का सुधार करें |

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पोर्टल पर किसान क्या-क्या कर सकते हैं?

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

kisan samadhan android app

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here