कृषक सेवा पोर्टल पर फसली ऋण एवं पीएम-किसान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेगें

9
19341
views
laghu seemaant krishak seva portal

लघु सीमान्त कृषक सेवा पोर्टल

डिजिटल इंडिया के दौर में कई योजनायें ऑनलाइन हो गई है साथ ही कई योजनाओं का लाभ भी ऑनलाइन आवेदन के जरिये ही दिया जाता है ऐसे में यह जरुरी है की सभी योजनाओं को एक प्लेटफार्म पर किया जाए ताकि सभी लोग कम समय में आवेदन कर उस योजना का लाभ जल्द ही पा सके | इसी ऑनलाइन होते आवेदनों के क्रम में राजस्थान सरकार ने एक बढ़ा कदम उठाया है | राजस्थान के कृषि मंत्री ने रविवार को  किसानों के लिये राज्य सरकार द्वारा लघु सीमान्त कृषक सेवा पोर्टल लाँच कर दिया गया है तथा शनिवार को ऑनलाइन तहसील चौमूं एवं रविवार को ऑफलाइन तहसील आमेर में पायलट आधार पर इसकी शुरूआत कर दी गई है।

श्री कटारिया ने बताया कि 19 फरवरी से 25 फरवरी तक प्रत्येक राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर कैम्पों के माध्यम से किसानों को पोर्टल पर एण्ट्री एवं योजना के बारे में जागरूक किया जायेगा। उन्होंने बताया कि कृषक सेवा पोर्टल पर किसान से उसके ग्राम सेवा सहकारी समिति के सदस्य होने या नहीं होने की जानकारी भी प्राप्त की जायेगी। जिसका विवरण संबंधित जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक से साझा किया जायेगा, जो आगामी फसली ऋण वितरण का भी आधार बनेगा

यह भी पढ़ें   यह राज्य फलों एवं मसालों की खेती के लिए दे रहा है 50 प्रतिशत अनुदान, अभी आवेदन करें

पोर्टल किन किसानों के लिए है एवं कैसे कार्य करेगा ?

कृषक सेवा पोर्टल राजस्थान के 2 हैक्टेयर तक की कृषि भूमि के पात्र सीमान्त एवं लघु किसान ई-मित्र केन्द्र पर आधार नम्बर से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। किसान द्वारा ऑनलाइन आवेदन करने के पश्चात् वह सहमति के आधार पर ई-साइन करेगा। तत्पश्चात् आवेदन ऑनलाइन ही संबंधित पटवारी को पहुंचेगा । पटवारी किसान के आवेदन में इन्द्राज सूचनाओं को भूअभिलेख रजिस्टर से मिलान करेगा। मिलान सही पाये जाने पर पटवारी आवेदन का प्रमाणीकरण कर संबंधित तहसीलदार को ऑनलाइन ट्रांसफर करेगा। किसान द्वारा किये गये आवेदन पर प्रत्येक स्तर पर की गई कार्यवाही की सूचना उसके पंजीकृत मोबाइल नम्बर पर एसएमएस के जरिये दी जायेगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए भी कृषक सेवा पोर्टल  

कृषि मंत्री ने बताया कि पीएम-किसान पोर्टल की गाइड लाइन 14 फरवरी को भारत सरकार ने जारी की है जबकि केन्द्र ने एक फरवरी को बजट भाषण में सीमान्त एवं लघु किसान के लिये पीएम-किसान की घोषणा की थी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की मंशा है कि किसानों को लाभ मिले इसके लिये हमने सुनियोजित कार्यक्रम के तहत कृषक सेवा पोर्टल की शुरूआत की है।किसान हितों को ध्यान में रखते हुए कृषक सेवा पोर्टल को पीएम-किसान सेवा पोर्टल से जोड़ दिया गया

यह भी पढ़ें   बिहार:फसल प्रोसेसिंग एवं ब्रांडिंग के लिए सरकार दे रही है 90 प्रतिशत का अनुदान

लघु सीमांत कृषक सेवा पोर्टल पर पंजीयन हेतु क्लिक करें 

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

9 COMMENTS

    • किसान सम्मान निधि योजना में सर्टिफिकेट नहीं दिए जायेंगे राशी सीधे बैंक खाते में आएगी ३ किश्तों में |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here