जानिए कैसी होगी सितम्बर महीने में मानसूनी वर्षा

सितम्बर माह के लिए मानसून पूर्वानुमान

देश में इस वर्ष के लिए मानसून का अंतिम माह चल रहा है | इस वर्ष जहाँ कई स्थानों पर अभी तक अधिक बारिश के चलते बाढ़ आ गई तो अनेक स्थानों पर कम बारिश के चलते सूखे की स्थिति बनी हुई है | ऐसे में लोगों को मानसून के आखरी चरण से काफी उम्मीदें बनी हुई है | भारतीय मौसम विज्ञान विभाग IMD ने मानसून सीजन में सामान्य वर्षा होने की उम्मीद अपने पहले के पूर्वानुमान में ही बता चूका है | साथ ही पूर्वानुमान के अनुसार ही जून में सामान्य से अधिक वर्षा एवं जुलाई माह में सामान्य या सामान्य से कम वर्षा का अनुमान लगाया गया था, वहीँ अगस्त माह में अधिकांश क्षेत्रों में सामान्य बारिश हुई है | मौसम विभाग ने सितम्बर महीने के लिए मानसून का पूर्वानुमान जारी कर दिया है |

देश भर में 2021 सितम्बर माह के लिए वर्षा सम्भावित पूर्वानुमान

माह सितम्बर 2021 के दौरान पूरे देश में औसत वर्षा सामान्य से अधिक दीर्घावधि LPA का 110 प्रतिशत होने की सम्भावना है | जिसमें 1961-2010 के आंकड़ों के आधार पर सितम्बर के दौरान वर्षा का दीर्घावधि औसत LPA 170 मि.मी. है | सितम्बर 2021 के दौरान अपेक्षित सामान्य वर्षा गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए, जून से अगस्त के दौरान की वर्षा 9 प्रतिशत कम होने की सम्भावना है और 1 जून से 30 सितम्बर के दौरान संचित वर्षा सामान्य के निचले छोर के आसपास होने की संभवना है |

- Advertisement -

पूर्वानुमान के अनुसार मध्यभारत के कई क्षेत्रों में सामान्य से अधिक से लेकर सामान्य वर्षा होने की सम्भावना है | उत्तरपश्चिम और उत्तर पूर्व तथा प्रायद्वीपीय भारत के अधिकांश दक्षिणी हिस्सों में सामान्य से लेकर सामान्य से नीचे वर्षा होने की संभावना है |

राज्यवार कैसा रहेगा सितम्बर माह में मानसून

monsoon forecast for september 2021

- Advertisement -

जैसा की चित्र में नीले रंग से दर्शाया गया है मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, उत्तर –पूर्वी एवं तटीय महाराष्ट्र, गुजरात, पूर्वी राजस्थान, झारखण्ड, तटीय कर्नाटक, तेलंगाना आदि राज्यों में अधिकांश स्थानों पर सामान्य या सामान्य से अधिक बारिश होने की स्मभ्वना है | वहीँ चित्र में पीले एवं लाल रंग से दर्शाया गया है कि पश्चिमी राजस्थान, पश्चिमी उत्तरप्रदेश, हरियाणा, पंजाब, पश्चिम बंगाल, केरल एवं तमिलनाडु का अधिकांश क्षेत्र, राज्यों में अधिकांश स्थानों पर सामान्य या सामान्य से कम बारिश होने की स्मभ्वना है |

- Advertisement -

Related Articles

3 COMMENTS

    • सर यदि फसल का बीमा है तो फसल बीमा कंपनी के टोल फ्री नम्बर या स्थानीय कृषि अधिकारीयों को फसल नुकसान की सूचना देकर सर्वे करवाएं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
यहाँ आपका नाम लिखें

Stay Connected

217,837FansLike
830FollowersFollow
54,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

ऐप खोलें