15 दिनों के अन्दर अभियान चलाकर किसानों का बनाया जाएगा किसान क्रेडिट कार्ड

27
kisan credit card mission guideline

किसान क्रेडिट कार्ड अभियान

जैसा की हम पहले बता चुके हैं केंद्र सरकार ने किसानों के हित में बहुत बड़ा फैसला लिया है इसके तहत ‘पीएम-किसान’ योजना के लाभार्थियों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) बनया जाएगा | इसके लिए केंद्र सरकार ने परिपूर्णता अभियान 10 फरवरी, 2020 से शुरू कर दिया है जो 15 दिनों तक चलाया जाएगा | सभी वह किसान जिन्हें अभी तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की किस्त मिल चुकी है आसानी से किसान क्रेडिट कार्ड बनबा सकते हैं |

किसान क्रेडिट कार्ड से किसानों को होने वाले लाभ

रियायती संस्‍थागत ऋणों तक सभी की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार ने ‘पीएम-किसान’ के सभी लाभार्थियों के लिए मिशन मोड में किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) परिपूर्णता अभियान शुरू किया है। ऐसे में इस तरह के सभी किसानों को समय पर पुनर्भुगतान करने पर अधिकतम 4 प्रतिशत की ब्‍याज दर पर फसलों एवं पशु/मत्‍स्‍य पालन के लिए अल्‍पकालिक ऋण प्राप्‍त करने में मदद मिलेगी।

केसीसी के अलावा, पीएम किसान लाभार्थियों तथा पात्र किसानों को उनकी सहमति प्राप्त करने के बाद सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई) और प्रधान मंत्री जीवन ज्योति योजना (पीएमजेजेबीवाई) के लिए भी नामांकित किया जाएगा। ये योजनाएं प्रत्येक मामले में 2 लाख के बीमित मूल्य के लिए क्रमशः 12 रुपये और 330 रुपये के प्रीमियम पर दुर्घटना बीमा और जीवन बीमा उपलब्ध कराती हैं।

सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड अभियान के लिए जारी किये दिशा निर्देश

यह अभियान 10 फरवरी, 2020 से शुरू हो गया है और इसे 15 दिनों तक चलाया जाएगा। इस संबंध में विस्‍तृत निर्देश सभी राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों की सरकारों, सभी बैंकों के प्रबंध निदेशकों और नाबार्ड के चेयरमैन को जारी किए जा चुके हैं जिनमें केसीसी के तहत पीएम-किसान के ला‍भार्थियों को कवर करने के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रिया का विस्‍तृत विवरण दिया गया है।

यह भी पढ़ें   स्प्रिंकल सेट, ड्रिप सिस्टम तथा डीजल पम्प सब्सिडी पर लेने के लिए आवेदन करें

राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों की सरकारों और बैंकों को पीएम-किसान के उन सभी लाभार्थियों की एक सूची तैयार करने की सलाह दी गई है जिनके पास केसीसी नहीं है। यही नहीं, राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों की सरकारों के कृषि, पशुपालन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभागों सहित संबंधित विभागों और पंचायत सचिवों के जरिए इन सभी ला‍भार्थियों से संपर्क साधने की भी सलाह दी गई है। एनआरएलएम योजना के तहत ‘बैंक सखी’ का भी उपयोग पीएम-किसान के लाभार्थियों को प्रेरित करने के लिए किया जाएगा, ताकि वे इस उद्देश्‍य के लिए संबंधित बैंकों की शाखाओं में अवश्‍य जाएं। जैसा कि केसीसी के साथ-साथ ब्याज में रियायत का लाभ अब पशुपालन और मत्स्य पालन किसानों के लिए भी सुनिश्चिति‍ किया गया है, राज्य/केंद्रशासित प्रदेश सरकारों से यह भी अनुरोध किया गया है कि वे ऐसे किसानों पर ध्यान केंद्रित करें और उनके लिए अतिरिक्त केसीसी जारी करने की अनुमति प्रदान करें।

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

  • एक पृष्‍ठ का एक सरल फॉर्म इस तरह से तैयार किया गया है कि पीएम किसान के तहत बैंक के रिकॉर्ड से मूल डेटा प्राप्त किया जाएगा और केवल फसल की बुआई के विवरण के साथ भूमि रिकॉर्ड की एक प्रतिलिपि को भरना होगा।
  • एक पृष्‍ठ का फॉर्म पूरे देश के सभी प्रमुख अखबारों में प्रकाशित होने वाले विज्ञापन के साथ उपलब्ध होगा और इसे लाभार्थियों द्वारा काटकर भरा जा सकता है।
  • फार्म सभी अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों (एससीबी) के साथ-साथ भारत सरकार के कृषि विभाग, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग की वेबसाइट (agricoop.gov.in) और पीएम-किसान पोर्टल (www.pmkisan.gov.in) से भी डाउनलोड किया जा सकता है। कॉमन सर्विस सेंटरों (सीएससी) को फॉर्म भरने और संबंधित बैंक शाखाओं में भेजने के लिए अधिकृत किया गया है।
यह भी पढ़ें   ओले गिरने से हुए फसल नुकसान का आकलन करने के लिए चलाया जाएगा गिरदावरी अभियान

सभी बैंकों को सलाह दी गई है कि वे इस तरह के आवेदनों पर गौर करने के लिए अलग काउंटर बनाएं और आवेदन जमा करने की तारीख से 14 दिनों के अंदर कम से कम समय में नया केसीसी जारी करना या मौजूदा केसीसी सीमा में बढ़ोतरी करना या निष्क्रिय केसीसी को सक्रिय बनाना सुनिश्चित करें। इस अभियान की प्रगति की निगरानी राज्यों/ केन्द्रशासित प्रदेशों द्वारा दैनिक आधार पर की जाएगी। जिले में परिपूर्णता अभियान के तहत गतिविधियां शीर्ष जिला प्रबंधक और डीडीएम, नाबार्ड के पूर्ण सहयोग के साथ जिला कलेक्टर द्वारा की जाएगी।

 किसान क्रेडिट कार्ड फार्म डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

Previous articleबजट में दलहन-तिलहन की सरकारी खरीद योजना में भारी कटौती, किसानों से फसल खरीद पर होगा असर
Next articleवर्ष 2020 में किसान यहाँ से लें मशरूम की खेती के लिए प्रशिक्षण

27 COMMENTS

  1. Kisaan smman nidhi ka pesa aata hai usi Bank me k c c bnegi ya
    Kisi or Bank me bna sakte hai
    Mera khata stete Bank me hai or kcc benk of broda me bnani hai

    • वह दोबारा से चालू हो जाएगा और लिमिट भी मिल जाएगी | आप बैंक में आवेदन करें |

    • सर समय पर लोन लें एवं वापस करें | आगे चलकर बढ़ सकती है |

  2. मेरे pm kisan nidhi मे आवेदन हे पर kcc बिलकुल कम मिली हे समाधान करवाये limit 3 लाख की कराओ plz

    • सर यह तो क्षेत्र एवं आपकी जमीन के ऊपर ही निर्भर करती है |

  3. Sir bhut sare karan bta rhe ki hamare pass to bhut kcc h ham nhi bna sakte or bol rhe apke najdiki bank se banaye
    Koi complain no. H kya

    • जो बैंक मना कर रहा है उसके मुख्य बैंक में शिकायत करें | लिखित में लें क्यों नहीं बना रहें हैं |

    • सर जिस बैंक से बनवा रहे हैं उसी बैंक में शिकायत करें | अभी सरकार की और से अलग से कोई शिकायत नम्बर जारी नहीं किया गया है |

  4. Bank waalo me mana Kar Diya hai kya kare bank wale Kisi Bhai kisan Ka KCC card Nahi banayenge ye card to direct Kendra Sarkar ki tarf se milna Chahiye hear 2000_2000 hajar rupye milte hai .bank wali ki kese manaye game bataye Varna KCC card ki yojna band Kar Dr thanks

    • बनायेंगे सर | सरकार का आदेश है | उनसे लिखित मने कारण लें क्यों नहीं बना रहे हैं ?

  5. pranam sir mein rajasthan ke rajsamand dist. ke Amet tehsil mein rahta hoon sir hamare kshetra me kisano se sambandhit kisi bhi prakar ki yojna ki jaankaari bank ya department ki taraf se nhi di jati hai

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here