गाय पालन को लाभकारी बनाने के लिए कैसे करें उनका पोषण प्रबंधन

0

गाय पालन को लाभकारी बनाने के लिए कैसे करें उनका पोषण प्रबंधन

गाय का पोषण प्रबंधन

बछड़ा

सूखाचारा 60 दिनों तक सिर्फ कोल्सट्रम एंव दूध पिलायें, सूखा चारा नहीं खिलावें। प्रथन 3सप्ताह- शरीर के वजन का 1/10 भाग। 4से5 सप्ताह- शरीर के वजन का 1/15भाग। 5 सप्ताह से ऊपर- शरीर के वजन का 1/20 भाग। हराचारा एक महिने के उम्र के बाद कोमल हरा चारा भरपूर मात्रा में दें।
विशेष आवश्यकता मानव उपयोग हेतु दूध बचाने के लिए बछडे को बाजार से खरीदा गाय सिकम्मड दूध 5वें सप्ताह से निम्न प्रकार दिया जा सकता है: 5वाँ सप्ताह-2.5ली., 7वाँ सप्ताह-2ली., 8वाँ सप्ताह- 1.75ली., 9वाँ सप्ताह- 1.25ली. चारा लागत/दिन् रू.65.00/-
जल की आवश्यकता 1माह से 4माह के लिए: 5से13ली.

 

दुधारू गाय

सूखाचारा भूसा/पुआल 4से5कि.ग्रा. हराचारा (जई,ज्वार)10कि.ग्रा.
दाना मिश्रण की आवश्यकता 4 कि.ग्रा. विशेष आवश्यकता 10कि.ग्रा. से अधिक दूध होने पर प्रत्येक 2.5कि.ग्रा. दूध के लिए 1.0कि.ग्रा. दाना मिश्रण खिलाना चाहिए।
चारा लागत/दिन् रू.75.00 जल की आवश्यकता 55 ली. से 60 ली.
यह भी पढ़ें   गर्मी के मौसम में रखें पशुओं का खास ध्यान नहीं तो घट सकता है दूध का उत्पादन

सूखी गाय

सूखाचारा 5किलो. हराचारा 10कि.ग्रा. (ज्वार, जई)
दाना मिश्रण की आवश्यकता 2.5 कि.ग्रा. चारापरलागत/दिन् रू.55.00
जल की आवश्यकता 45 से 50 ली.
Previous articleफसल बीमा जमीनी हकीकत : फसल बीमा के नाम पर हो रही करोड़ों की लूट
Next articleगमारी या सफ़ेद सागौन की कृषि वानिकी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here