सब्सिडी पर लें मछली जीरा

0
728
views
Fish Jeera Production Subsidy

मछली जीरा सब्सिडी

किसानों की आमदनी बढ़ने के लिए सरकार कृषि के अन्य स्त्रोतों को बढ़ावा दे रही है | इसके लिए कृषि के साथ – साथ पशुपालन, कुक्कुट पालन, मत्स्य पालन को प्रोत्साहन दिया जा रहा है यह सभी योजना केंद्र तथा राज्य सरकार की सहयोग से चलाई जा रही है | इसके लिए किसानों को समय – समय पर प्रोत्साहित किया जा रहा है | इसी क्रम में उत्तरप्रदेश सरकार ने राज्य के मत्स्य पलकों के लिए एक योजना लेकर आयी है | इस योजना के तहत मछली पलकों को सब्सिडी पर मत्स्य के बछे उपलब्ध कराये जायेंगे |  इसकी पूरी जानकारी किसान समाधान लेकर आया है |

मछली जीरा हेतु योजना क्या है ?

योजना का नाम मत्स्य अंगुलिका संचय है | इस योजना के तहत मत्स्य जीवी सहकारी संघ द्वारा मिशन फिंगरलिंग के अंतर्गत वर्ष 2019 – 20 में समिति को आवंटित जलाशयों एवं तालाबों में 70 – 100 एम.एम. के मत्स्य अंगुलिका संचय पर प्रोत्साहन की योजना सदस्य समितियों के लिए प्रारम्भ की गई है | इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश मत्स्य विकास निगम लि. की हैचरी / नर्सरियों से क्रय कर संचित की जाने वाली मत्स्य अंगुलिकाओं के मूल्य पर 10 प्रतिशत प्रोत्साहन धनराशि समिति के खाते में सीधे उपलब्ध कराई जायेगी |

यह भी पढ़ें   50 प्रतिशत बिना चमक के गेहूं भी समर्थन मूल्य पर ख़रीदे जाएंगे

योजना का लाभ कैसे मिलेगा ?

योजना का लाभ लेने हेतु सदस्य समितियों को आवंटित जलक्षेत्र का प्रमाण – पत्र , क्रय किये गए मत्स्य अंगुलिकाओं का बीजक / चालान, मत्स्य अंगुलिका संचय के दो फोटोग्राफ , मत्स्य अंगुलिका संचय संबंधित जनपदीय अधिकारी का प्रमाण – पत्र एवं धनराशि खाते में हस्तानांतरित किये जाने हेतु बचत खाता संख्या एवं आई.एफ.एस.सी. कोड शीत पासबुक की छायाप्रति संघ कार्यालय को उपलब्ध करना होगा | इस योजना से समितियों को अंगुलिका संचय पर आर्थिक सहायता मिलने के साथ – साथ प्रदेश के मत्स्य उत्पादन एवं उत्पादकता में वृद्धि हेतु व्यापक प्रभाव पड़ेगा |

इस तरह की ताजा जानकरी विडियो के माध्यम से पाने के लिए किसान समाधान को YouTube पर Subscribe करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here