एन.पी. NP खाद के दामों में की गई भारी कटौती, जानिए क्या है नए दाम

2
2675
np khad price 2020

इफको एनपी खाद के नए दाम

फसल उत्पादन के लिए नाइट्रोजन, पोटाश एवं फ़ॉस्फ़ोरस दोनों ही महत्वपूर्ण पोषक तत्व हैं, किसानों को फसलों में इन पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए किसी न किसी खाद का प्रयोग करना ही पड़ता है | ऐसे में फसल उत्पादन में लगने वाली लागत में खाद/उर्वरक का महत्त्व बड़ जाता है, अधिक एवं अनुचित उर्वरकों के प्रयोग से जहाँ फसलों की लागत बढ़ जाती है वहीँ कम दामों एवं उर्वरक के उचित प्रयोग से कम लागत में अच्छी पैदावार भी प्राप्त होती है | ऐसे में इफको द्वारा एन.पी.खाद के दामों में की गई कटौती किसानों के लिए राहत की खबर है | इफको ने एनपी 20:20:0:13: अमोनियम फॉस्फेट सल्फेट उर्वरक की कीमत में 50 रुपये प्रति बैग की कमी करने की घोषणा की है। नयी कीमत पूरे देश में सभी स्टॉक पर तत्काल प्रभाव से लागू हो गयी है।

एनपी 20:20:0:13 खाद के दामों में कटौती

इफको द्वारा जारी वक्तव्य के अनुसार, मिट्टी के एक प्रमुख पोषक तत्व, सल्फर पर किसानों के लिए समर्थन के रूप में लागत में 1000 रुपये प्रति टन की कमी की गयी है। यह पोषक तत्व सभी प्रकार के तिलहन फसलों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यह फसलों की गुणवत्ता में सुधार करता है और पौधों की वृद्धि में भी मदद करता है। एनपी उर्वरक पर किसानों के लिए कृषि लागत में 50 रुपये प्रति बैग की यह कमी, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के दृष्टिकोण के अनुरूप है।

एनपी 20:20:0:13 खाद में 50 रुपये प्रति बैग की कमी करने के बाद अब एन.पी. खाद की नई कीमत 925 रुपये प्रति बोरी हो गई है जो पहले 975 रुपये थी | इफको के तरफ से कहा गया कि जहां भी संभव होगा किसानों के लिए कीमतों में कमी करता रहेगा। हाल ही में सितंबर, 2020 में इफको ने यह भी घोषणा की कि वे किसानों के लिए इस रबी सीजन में डीएपी और एनपीके उर्वरकों की कीमतों में कोई वृद्धि नहीं करेंगे |

इफको द्वारा तैयार किया गया एन.पी. 20:20:0:13 (अमोनियम फॉस्फेट सल्फ़ेट) दो प्रमुख पोषक तत्वों (नाइट्रोजन और फ़ॉस्फ़ोरस) के अलावा फसलो को गंधक भी प्रदान करता है। जो कि चौथा सबसे महत्त्वपूर्ण पोषक तत्त्व है।

Previous articleयहाँ किसानों को धान की सरकारी खरीद पर दिया जायेगा 182 रुपये प्रति क्विंटल का बोनस
Next articleवैज्ञानिकों ने विकसित की पशुओं के चारे हेतु ज्वार की नई उन्नत किस्म ‘सीएसवी 44 एफ’

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here