गेंहू ,चना सरसों एवं मसूर की सरकारी खरीद बोनस राशि के साथ की जा रही है

0
1378
views
गेंहू ,चना सरसों के साथ मसूर की सरकारी खरीद

गेंहू ,चना सरसों के साथ मसूर की सरकारी खरीद

वर्ष 2019 – 20 के लिए रबी फसल की सरकारी खरीदी जोरों पर चल रहा है | यह सभी खरीदी केंद्र सरकार के द्वारा तय न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जा रही है | जैसे – जैसे किसानों के द्वारा रबी फसल का उपार्जन खरीदी केंद्र तक पहुँच रही है वेसे – वैसे खरीदी किया जा रहा है | मध्य प्रदेश में देश के सबसे ज्यादा रबी फसल में मसूर तथा चना की खरीदी किया जाता है इसके आलावा गेंहूँ की भी सरकारी खरीदी में दुसरा स्थान रखता है | इस वर्ष राज्य सरकार ने पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष ज्यादा खरीदी केंद्र स्थापित कर रही है | इसके साथ ही सरकार प्रत्येक क्विंटल पर बोनस दे रही है |ताजा जानकारी के अनुसार सरकारी खरीदी इस प्रकार हुई है –

गेंहूँ खरीदी की स्थिति

मध्य प्रदेश में 18.81 लाख मी. टन गेंहूँ की खरीदी किया जा चूका है | यह खरीदी 2 लाख 44 हजार 510 किसानों से 18 लाख 81 हजार मीट्रिक टन गेंहू का उपार्जन किया जा चूका है | प्रतिदिन लगभग 2 लाख 9 हजार मीट्रिक टन गेंहू की खरीदी किया जा रहा है |

यह भी पढ़ें   सरकार ने शुरू की टाल विकास योजना

18 लाख 81 हजार मीट्रिक टन गेंहू खरीदी में से 13 लाख 73 हजार मीट्रिक टन गेंहू का परिवहन करके भंडारण किया जा चूका है | इस वर्ष राज्य सरकार ने प्रदेश में 3,541 खरीदी केंद्र स्थापित किया है , जो पिछले वर्ष के मुकाबले लगभग 600 अधिक है |

चना , मसूर तथा सरसों की खरीदी 

इस वर्ष मध्यप्रदेश में 233 केन्द्रों से 11 हजार 900 मीट्रिक टन की कुल खरीदी किया जा चूका है | यह खरीदी चना , मसूर तथा सरसों तीनों मिलाकर है | प्रदेश में अभी तक सभी खरीदी केंद्र शुरू नहीं हुआ है | इसका कारण यह है की प्रदेश में सभी जिलों में रबी फसल की कटाई एक साथ नहीं होती है | इसलिए सभी जिलों में खरीदी केंद्र शुरू नहीं हुआ है | जल्द ही उन केन्द्रों पर भी खरीदी शुरू किया जायेगा जहाँ पर अभी शुरू नहीं हुआ है |

सभी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य क्या है ?

वर्ष 2019 – 20 के लिए केंद्र सरकार ने रबी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया है | जो पुरे देश में एक समान है , अगर किसी राज्य को अपने प्रदेश के किसानों को अलग से मूल्य देना है तो वह बोनस के रूप में दे सकते है मध्य प्रदेश सरकार गेंहूँ पर 160 रुपया तथा बचे हुये सभी रबी फसल पर 100 रुपये का बोनस दे रही है | इस वर्ष गेंहू की न्यूनतम समर्थन मूल्य 1840 रु./ किवंटल है, इसके साथ ही सरसों का 4200 रु./किवंटल, मसूर का 4475 रु./ किवंटल, तथा चना का 4620 रु./ किवंटल है |

यह भी पढ़ें   अब किसानों के इन व्यावसायिक बैंकों से लिए गए कर्ज भी होगें माफ

एक बात का ध्यान रखना होगा कि इस वर्ष गेंहूँ पर 160 रुपया का तथा चना , मसूर तथा सरसों पर 100 रु. का बोनस दिया जा रहा है | जो न्यूनतम समर्थन मूल्य के ऊपर होगा, लेकिन पैसे की भुगतान दोनों एक साथ किया जायेगा |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here