back to top
28.6 C
Bhopal
सोमवार, जून 24, 2024
होमकिसान समाचारउच्च तकनीक से पान की खेती करने के लिए सरकार दे...

उच्च तकनीक से पान की खेती करने के लिए सरकार दे रही है अनुदान, किसान अभी करें आवेदन

पान की खेती के लिए अनुदान हेतु आवेदन

पान की खेती की लागत अधिक होती है, इसलिए सभी किसान पान की खेती नहीं कर सकते हैं। ऐसे में देश में पान के पत्तों का उत्पादन एवं उत्पादकता बढ़ाने के लिए सरकार किसानों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराती है ताकि किसान पान की खेती के लिए आवश्यक निवेश कर सकें। इसके लिए पान की खेती के लिए अनुकूल विभिन्न ज़िलों का चयन किया गया है। जहां किसानों को राष्ट्रीय कृषि विकास योजना RKVY के तहत अनुदान दिया जाता है। 

इस कड़ी में मध्य प्रदेश उद्यानिकी विभाग ने राज्य के चयनित ज़िलों के किसानों को योजना का लाभ देने के लिए लक्ष्य जारी किए हैं। इच्छुक किसान जारी लक्ष्य के विरुद्ध “उच्च तकनीक से पान खेती” के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। जिसके बाद चयनित किसानों को पान की खेती करने के लिए सरकार की ओर से अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा।

इन जिलों के किसान कर सकते हैं पान की खेती के लिए आवेदन

मध्य प्रदेश उद्यानिकी विभाग ने अभी राज्य में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत उच्च तकनीक से पान की खेती परियोजना वर्ष 2022–23 हेतु 5 ज़िलों के लिए लक्ष्य जारी किए हैं, जो इस प्रकार है:- छतरपुर, टीकमगढ़, पन्ना, निवाड़ी तथा सागर। जारी लक्ष्य के विरुद्ध सामान्य, अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के किसान आवेदन कर योजना का लाभ उठा सकते हैं। 

यह भी पढ़ें   गर्मी में पशुओं को लू से बचाने के लिए करें यह काम, नहीं आएगी दूध उत्पादन में कमी

पान की खेती के लिए उधानिकी विभाग ने सभी वर्गों के किसानों के लिए कुल 512 इकाई का लक्ष्य जारी किया है।जिसके लिए 132.608 लाख रूपये अनुदान दिए जाने का प्रावधान किया गया है। जिसमें सामान्य वर्ग के लिए 328, अनुसूचित जाति के लिए 82 तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 102 इकाई का लक्ष्य जारी किया गया है।

पान की खेती के लिए दिया जाने वाला अनुदान Subsidy

उच्च तकनीक से पान की खेती के लिए मध्य प्रदेश उधानिकी विभाग किसानों को अनुदान उपलब्ध करा रही है। कृषक को 500 वर्ग मीटर में पान बरेजा की स्थापना हेतु बांस का उपयोग करने पर इकाई लागत राशि पर 35 प्रतिशत का अनुदान दिया जाएगा। जिसके लिए विभाग ने इकाई लागत 74,000 रूपये निश्चित की है, जिस पर 35 प्रतिशत अधिकतम राशि 25,900 रूपये दी जाएगी। पूर्व के लाभान्वित कृषक/सिकमी कृषक को योजना अंतर्गत पुन: लाभ देय नहीं होगा।

पान की खेती के लिए अनुदान योजना एवं लक्ष्य सम्बंधित विस्तृत जानकारी के लिए क्लिक करें

यह भी पढ़ें   इफको ने युवाओं को दिये ड्रोन और इलेक्ट्रिक व्हीकल, किसान 300 रुपये देकर करा सकेंगे दवाओं का छिड़काव

अनुदान पर पान की खेती हेतु आवेदन करने के लिए क्लिक करें

पान उत्पादन हेतु आवेदन उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग मध्यप्रदेश के द्वारा आमंत्रित किये गए हैं अत; किसान भाई यदि योजना के विषय में अधिक जानकारी चाहते हैं तो उद्यानिकी एवं विभाग मध्यप्रदेश पर देख सकते हैं। इसके अलावा किसान अपने ब्लॉक या ज़िले के उद्यानिकी विभाग में भी सम्पर्क कर सकते हैं। मध्यप्रदेश में किसानों को आवेदन करने के लिए ऑनलाइन पंजीयन उद्यानिकी विभाग मध्यप्रदेश फार्मर्स सब्सिडी ट्रैकिंग सिस्टम https://mpfsts.mp.gov.in/mphd/#/ पर जाकर कृषक पंजीयन कर सकते हैं।

सब्सिडी पर पान की खेती हेतु आवेदन करने के लिए क्लिक करें

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर