सरकार ने खरीफ सीजन धान, कपास, दलहन एवं तिलहन फसलों के समर्थन मूल्य पर खरीद को दी मंजूरी

1346
dhaan kapas dalhan tilahan msp kharid

धान, कपास, दलहन एवं तिलहन फसलों की समर्थन मूल्य पर खरीद

सरकार द्वारा लाये गए कृषि कानूनों को लेकर किसानों के मन में फसलों की न्यूनतम समर्थन मूल्य MSP की खरीद को लेकर शंकाएं हैं | इन शंकाओं के कारण किसान लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं | किसानों के विरोध एवं शंकाओं को दूर करने के लिए इस वर्ष सरकार ने खरीफ फसलों धान, दलहन तिलहन एवं कपास आदि फसलों की खरीद प्रक्रिया शुरू कर दी है |

केंद्र सरकार ने राज्यों के प्रस्ताव के आधार पर, तमिलनाडु, कर्नाटक, महाराष्ट्र, तेलंगाना और हरियाणा राज्यों को खरीफ सत्र 2020-21 के लिए 13.77 लाख मीट्रिक टन दलहन और तिलहन की खरीद की मंजूरी दे दी है। अन्य राज्यों तथा केंद्रशासित प्रदेशों के लिए खरीफ दलहन और तिलहन के बिक्री प्रस्ताव की प्राप्ति पर अनुमोदन किया जायेगा और यदि बाजार की दरें इसके एमएसपी से नीचे जाती हैं तो मूल्य समर्थन योजना (पीएसएस) के अनुसार इनकी खरीद की जाएगी |

यह भी पढ़ें   किसानों को मधुमक्खी पालन के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने शुरू की नई योजना

धान की समर्थन मूल्य पर खरीद

केरल में 21 सितम्बर 2020 और पंजाब व हरियाणा में 26 सितम्बर 2020 से प्रारंभ की जा रही है | वहीँ उत्तरप्रदेश में धान की खरीदी 1 अक्टूबर से शुरू की जाएगी | 2020-21 के दौरान धान की खरीद 26 सितंबर 2020 से शुरू हुई और 27.09.2020 तक 1868 रुपये प्रति क्विंटल के एमएसपी पर 5637 मीट्रिक टन धान 10.53 करोड़ रुपये एमएसपी मूल्य पर हरियाणा और पंजाब के 390 किसानों से खरीदा गया है। शेष राज्यों के लिए धान की खरीद 28.09.2020 से शुरू की जा रही है |

1 अक्टूबर से कपास की खरीद

2020-21 विपणन सत्र के लिए कपास की खरीद 1 अक्टूबर 2020 से शुरू होगी और कॉटन कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (सीसीआई) 1 अक्टूबर 2020 से एफएक्यू ग्रेड कॉटन की खरीद शुरू करेगी ।

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

पिछला लेखकृषि बिल Farm BiLL 2020 को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी, अब कृषि बिल बन गए कानून
अगला लेखइस वर्ष 80 प्रतिशत की सब्सिडी पर स्थापित किये जाएंगे 1500 कस्टम हायरिंग सेंटर

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.