किसान अब 22 जून तक MSP पर बेच सकेंगे गेहूं

175
msp wheat kharid up

MSP पर गेहूं खरीद

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर रबी फसलों की खरीदी का अंतिम दौर चल रहा है | इसके बाबजूद भी अभी कई किसान ऐसे हैं जो अपनी उपज समर्थन मूल्य पर बेच नहीं पाए हैं |  ऐसे में किसानों के द्वारा मांग की जा रही थी कि गेहूं खरीदी की अंतिम तिथि को आगे बढाया जाए | जिसे देखते हुए उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने गेहूं खरीदी की अंतिम तारीख को आगे बढ़ा दिया है | राज्य में इस वर्ष गेहूं की सरकारी खरीदी उच्चतम स्तर पर है इसके बाद भी सरकारी खरीद को आगे बढ़ा दिया गया है |

22 जून तक की जाएगी गेहूं की खरीदी

उत्तर प्रदेश में गेहूं कि खरीदी 15 जून तक किया जाना था जिसे राज्य सरकार ने 22 जून तक आगे बढ़ा दिया है | सभी ऐसे किसान जो पहले ही गेहूं समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए पंजीकरण करवा चुके हैं परन्तु अभी तक गेहूं नहीं बेच पाए हैं वह किसान 22 जून तक MSP पर गेहूं की उपज बेच सकते हैं |

यह भी पढ़ें   किसानों को हर वर्ष दिए जायेगें 6,000 रुपये : बजट 2019

उत्तर प्रदेश के खाद्य आयुक्त ने बताया कि इस बार 16,10,637 किसानों ने ऑनलाइन पंजीकरण कराया था , जबकि पिछले वर्ष 7,94,484 किसानों ने पंजीयन कराया था | राज्य में 12,30,024 किसानों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचा है | यानि इस बार 5,66,214 अधिक किसानों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ प्राप्त हुआ है |

राज्य में इस वर्ष 54.25 लाख मीट्रिक टन की गई गेहूं खरीदी

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों से वर्ष 2020–21 के रबी सीजन में 54.25 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा है | इससे पहले 2018–19 में 52.92 लाख मीट्रिक टन की खरीद हुई थी | वर्ष 2019–20 में 37.04 लाख मीट्रिक टन और 2020–21 में 35.76 लाख मीट्रिक टन की खरीद हुई थी | पिछले वर्ष की तुलना में इस बार 18.49 लाख मीट्रिक टन गेहूं अधिक खरीदा गया है |

पिछला लेखकिसान सहजन (मोरिंगा) बेचने के लिए यहाँ सम्पर्क करें
अगला लेखसमर्थन मूल्य पर मूंग एवं उड़द बेचने के लिए 20 जून तक करायें पंजीकरण

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.