किसानों को एक ही स्थान पर ऑनलाइन मिलेगा सभी योजनाओं का लाभ : कृषि मंत्री

6
37725
kisan yojna ke liye online portal avedan

खेती किसानी योजनाओं का लाभ ऑनलाइन

देश में आज के समय अधिकांश योजना का लाभ ऑनलाइन ही आवेदन के माध्यम से डी.बी.टी. के द्वारा ही दिया जा रहा है | इसमें राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार की योजनायें शामिल है परन्तु अभी भी किसानों को बहुत सी योजनाओं का लाभ लेने के लिए ऑफलाइन आवेदन विभाग में जाकर करना होता है जिसमें किसानों को काफी समस्या का सामना भी करना पड़ता है | कुछ योजनाएं जो ऑनलाइन की जा चुकी है उनके लिए अलग-अलग पोर्टल बने हुए हैं जिससे भी किसानों को काफी असुविधा होती है परन्तु अब राजस्थान सरकार जल्द ही किसानों के लिए एक ऐसा पोर्टल बनाने जा रही है जिसमें सभी सरकारी योजनाओं का लाभ किसान एक ही जगह से ले सकते हैं |

राज किसान साथी पोर्टल की शुरुआत

कृषि मंत्री श्री लालचन्द कटारिया ने गुरुवार को यहां पंत कृषि भवन में ‘ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग’ के तहत ’राज किसान साथी’ पोर्टल विकसित करने के लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट का उद्घाटन किया। इस एकीकृत पोर्टल के माध्यम से काश्तकारों को सभी योजनाओं का लाभ एक ही स्थान पर ऑनलाइन मिल सकेगा। इस साल बजट भाषण में किसानों की सुविधा के लिए ‘ईज ऑफ डूइंग फार्मिंग’ की घोषणा की थी। उसी के तहत ’राज किसान साथी’ पोर्टल विकसित किया जा रहा है, जिसके लिए पंत कृषि भवन में प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट की स्थापना की गई है। इस पोर्टल के जरिये किसानों को कृषि एवं संबद्ध विभागों की योजनाओं की सब्सिडी के आवेदन व खेती की सम्पूर्ण जानकारी एक ही स्थान पर ऑनलाइन उपलब्ध होगी।

यह भी पढ़ें   गलत बिजली बिल किये जाएंगे माफ एवं किसानों को खेती के लिए दी जाएगी 10 घंटे बिजली

किसानों की सुविधा के लिए कृषि व इससे संबंधित विभागों की अनुदान योजनाओं में आवेदन प्रक्रिया की समीक्षा कर सरलीकरण किया जा रहा है। सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग के सहयोग से विकसित ’राज किसान साथी’ पोर्टल के जरिये आवेदन से लेकर किसान के खाते में अनुदान के भुगतान तक की प्रक्रिया अब सम्पूर्ण रूप से ऑनलाइन ही होगी। ऑनलाइन आवेदन के बाद भुगतान तक की स्थिति से किसानों को अवगत करवाने के लिए समय-समय पर उनको मोबाइल मैसेज भी भेजे जाएंगे। इससे अनुदान प्रक्रिया में पारदर्शिता भी सुनिश्चित हो सकेगी। उन्होंने बताया कि यह एकीकृत पोर्टल होगा जिसमें कृषि, उद्यान, कृषि विपणन, सहकारिता, पशुपालन, मत्स्य पालन विभाग, बीज निगम व जैविक प्रमाणीकरण संस्था को शामिल किया गया है।

ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध अन्य जानकारी

राज किसान साथी पोर्टल के जरिए किसानों को उन्नत कृषि तकनीक की जानकारी व विशेषज्ञों की ओर से समसामयिक सलाह भी दी जाएगी। इसी के तहत किसानों के लिए मोबाइल एप भी विकसित किए जाएंगे जिनके द्वारा मोबाइल पर ही किसानों को घर बैठे कृषि योजनाओं, उन्नत तकनीक, बीज उत्पादन, जैविक खेती, मंडी भाव और किराए पर कृषि यंत्र लेने जैसी सुविधाओं की जानकारी मिल सकेंगी।

यह भी पढ़ें   एक बार फिर फसलों पर टिड्डी कीट का हमला, नियंत्रण के लिए 45 गाड़ियाँ एवं 600 ट्रेक्टर करेगें काम

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

6 COMMENTS

    • मध्यप्रदेश में कृषि यंत्र सम्बंधित सभी जानकारी जानने के लिए दी गई लिंक पर विडियो देखें |https://youtu.be/eFfCHp1vz5E

    • जिस बैंक में सम्मान निधि का पैसा आ रहा है उस बैंक में आवेदन करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here