किसान 30 अप्रैल तक जमा कर सकेंगे शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण

1107
kisan crop loan date

फसली ऋण जमा करने की लास्ट डेट

किसानों को कृषि आवश्यकताओं की पूर्ती के बैंकों से अल्पकालिक फसली ऋण दिया जाता है | सरकारों के द्वारा किसानों समय पर एवं कम ब्याज दरों पर ऋण उपलब्ध करवाने के लिए कई योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है परन्तु समय पर ऋण न जमा करने पर कृषक को अधिक ब्याज देना होता है | किसान सहकारी बैंक से जो ऋण लेते हैं उसमें खरीफ फसल के लिए ऋण जमा करने की अवधि मार्च अंत तक होती है परन्तु मध्यप्रदेश सरकार ने इसे एक माह आगे बढ़ाने का फैसला लिया है | किसान अब खरीफ सीजन के समय लिए गए ऋण को 30 अप्रैल तक जमा कर सकेंगे | जिससे उन्हें ब्याज में छूट का लाभ मिल सकेगा |

मध्यप्रदेश के किसानों की खरीफ में सोयाबीन एवं अन्य फसलों का उत्पादन बिगड़ने एवं रबी फसलों की खरीदी अभी तक प्रारंभ न होने के कारण कृषक 28 मार्च 2021 पर अपने खरीफ 2021 के ऋण की अदायगी करने में सक्षम नहीं थे| | राज्य के सहकारिता मंत्री डॉ. अरविन्द सिंह भदौरिया के अनुरोध पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा खरीफ 2020 के ऋणों की अदायगी के लिए अंतिम तिथि 28 मार्च, 2021 से बढ़कर 30 अप्रैल 2021 कर दी गई है | इससे किसानों को 1 माह तक ऋण अदायगी का मोहलत मिल गई है | जिससे किसानों अब 30 अप्रेल तक ऋण जमा करते हैं तो उस पर उन्हें कोई ब्याज नहीं देना होगा |

यह भी पढ़ें   अन्ना का अनशन खत्म, सरकार ने मानी 95% मांगें

शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर दिया जाता है ऋण

किसान क्रेडिट कार्ड के द्वारा राष्ट्रीय या निजी बैंकों से लिए गये ऋण पर 7 प्रतिशत की ब्याज दर पर ऋण दिया जाता है | किसानों के द्वारा समय पर ऋण जमा करने पर किसान क्रेडिट कार्ड पर 3 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाती है जिससे किसानों को सिर्फ 4 प्रतिशत का ही ब्याज देना होता है |

वही मध्यप्रदेश राज्य सरकार द्वारा किसानों को सहकारी बैंक से शून्य प्रतिशत ब्याज पर खरीफ तथा रबी फसल के लिए ऋण दिया जाता है | यह ऋण समय पर अदायगी कर देने पर किसानों से किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं लिया जाता है |

समय पर ऋण नहीं चुकाने पर लगता है 13 प्रतिशत ब्याज

किसानों के द्वारा सहकारी बैंक से ऋण प्राप्त करने पर समय पर नहीं चुकाने पर किसानों को भारी ब्याज लगता है  | समय पर किसानों के द्वारा ऋण नहीं देने पर वितरण से अंतिम तिथि पर 7 प्रतिशत तथा 28 मार्च 2021 के बाद ऋण जमा करने पर किसानों से 13 प्रतिशत की  दर से ब्याज लिया जाता है | अतः जिन किसानों ने अभी तक ऋण जमा नहीं किया है वह 30 अप्रेल से पहले जमा का शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण योजना का लाभ ले सकते हैं |

यह भी पढ़ें   किसानों के फसल बीमा की राशि जमा करेगी यह सरकार
पिछला लेखचना एवं सरसों समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए किसान 25 मार्च से करवा सकेंगे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
अगला लेखकिसानों की ऑनलाइन मंडी ई-नाम से 1.69 करोड़ किसानों को हुआ लाभ

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.