खेती की उन्नत तकनीक की जानकारी एवं गेहूं, चना, सरसों के उन्नत किस्मों के बीज लेने के लिए किसान आएँ इस मेले में

770
krishi mela 2022

रबी कृषि मेला 2022

किसानों को कृषि क्षेत्र की नई-नई तकनीकों से अवगत कराने के लिए विभिन्न कृषि विश्वविद्यालयों के द्वारा समय-समय पर कृषि मेलों का आयोजन किया जाता है। किसान मेलों में आकार न केवल कृषि वैज्ञानिकों से मिल सकते हैं बल्कि अलग-अलग क्षेत्रों में किसानों के द्वारा किए जा रहे नवाचारों की जानकारी भी ले सकते हैं। साथ ही कृषि मेले में किसानों को विभिन्न फसलों की अधिक पैदावार वाली किस्मों के बीजों का वितरण भी किया जाता है। ऐसे ही एक कृषि मेले का आयोजन हरियाणा के चौधरी चरण सिंह कृषि विश्वविद्यालय, हिसार में आयोजित किया जा रहा है। 

हरियाणा में किसानों को कृषि संबंधित जानकारी तथा खेती में उन्हें आ रही समस्याओं के समाधान के साथ–साथ नई तकनीक से वाकिफ कराने के लिए कृषि मेले का आयोजन किया जा रहा है। यह मेला 13 सितम्बर 2022 से शुरू होकर 14 सितम्बर 2022 तक चलेगा। अभी आयोजित होने वाले इस इस कृषि मेले का मुख्य विषय कृषि में “जल सरंक्षण” है।

कृषि मेला (रबी) में क्या ख़ास रहेगा ?

चौधरी चरण सिंह कृषि विश्वविद्यालय, हिसार में आयोजित होने वाले इस दो दिवसीय कृषि मेले में आने वाले किसानों के लिए कृषि संबंधित अनेकों जानकारियां प्राप्त करने का मौका मिलेगा। कृषि मेला में प्रदेश के प्रगतिशील किसानों को भी सम्मानित भी किया जाएगा। मेले के दौरान आने वाले किसानों की खेतीबाड़ी संबंधी सभी समस्याओं के समाधान के लिए किसान गोष्ठियों का आयोजन होगा जिनमें विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक किसानों की कृषि व पशुपालन संबंधी समस्याओं का हल बताया जायेगा।

यह भी पढ़ें   बड़ी खबर: किसानों को अब DAP खाद की एक बोरी पर मिलेगी 1200 रुपये की सब्सिडी

मेले में आने वाले किसानों को विश्वविद्यालय के अनुसंधान फार्म पर वैज्ञानिकों द्वारा उगाई गई खरीफ फसलें व उनमें प्रयोग की गई प्रौद्योगिकी की जानकारी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा मेले में कृषि संबंधी व कृषि औद्योगिकी प्रदर्शनी भी लगाई जाएंगी जिससे किसानों को आधुनिक कृषि यंत्रों व तकनीकों की जानकारी मिल सकेगी। इस प्रदर्शनी में “स्वालंबी भारत-आत्मनिर्भर किसान” पैवेलियन होगा जिसमें हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय से प्रशिक्षण लेकर अपना व्यवसाय शुरू करने वाले किसान अपने उत्पाद प्रदर्शित किए जाएँगे।

किसान यहाँ से खरीद सकते हैं गेहूं, चना एवं सरसों फसल के बीज

यह मेले का आयोजन मुख्य रूप से रबी सीजन को ध्यान में रखकर किया जा रहा है। ऐसे में रबी सीजन की विभिन्न फसलों का उत्पादन बढ़ाया जा सके इसके लिए किसानों को गेहूं, चना, जौ एवं सरसों के आधार (फाउंडेशन) व प्रमाणित (सर्टिफाइड) बीज भी उपलब्ध कराए जाएँगे। बीज की खरीद के लिए किसानों को अपने साथ आधार कार्ड अवश्य लेकर आना होगा। किसान कृषि मेले से इन किस्मों के बीज खरीद सकते हैं:-

  • गेहूं – कृषि मेले से किसान गेंहू की डब्ल्यू. एच.-1270, 1105, 711, 1124, 1142 व 1184 क़िस्में, गेहूं की एच.डी.-2967, 3086 व 3226, गेहूं की डी.बी.डब्ल्यू. 222 व 303 क़िस्में ले सकते हैं। 
  • सरसों – वहीं किसान सरसों की आर.एच. – 725, 730 और 749 किस्म मेले से ले सकते हैं।
  • चना :- किसान चने की एच.सी. – 1, 5, और 7 किस्म मेले से ले सकते हैं।
  • जौ – मेले से किसान जौ की बी.एच. -393 किस्म ले सकते हैं। 
यह भी पढ़ें   जल्द ही डीजल अनुदान पाने के लिए यहाँ से करें आवेदन 
पिछला लेख75 प्रतिशत के अनुदान पर पपीते की खेती के लिए आवेदन करें
अगला लेखसब्सिडी पर बायो गैस प्लांट बनाने के लिए आवेदन करें

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.