10,000 रुपये प्रति एकड़ सहित अन्य मांगों को लेकर किसानों ने धरना दिया

0
817

विभिन्न मांगो को लेकर किसानों ने दिया धरना

लगता है की किसानों के लिए शुरू की गई पीएम किसान सम्मान निधि योजना से किसान खुश नहीं है | सरकार ने तो किसानों को प्रति वर्ष 6,000 रुपया प्रति परिवार देने की घोषणा ही नहीं बल्कि पहली किश्त देना भी शुरू कर दिया है , लेकिन तेलंगाना राज्य सरकार के द्वारा अपने राज्य के किसानों को पहले 8,000 रुपया प्रति एकड़ देने के बाद इस वर्ष बजट में 10,000 रुपया प्रति एकड़ देने की घोषणा कर दी है | जिसको लेकर देश के किसानों में तेलंगाना राज्य योजना की मांग होने लगी है |

इस मांग का एक बड़ा कारण यह भी है की तेलंगाना राज्य सरकार की योजना में किसी भी तरह का किसानों के प्रति भूमि की सीमा नहीं रखा गई है | पीएम किसान योजना के अंतर्गत 2 हेक्टयर सीमा तक के किसानों को ही शामिल किया गया है | जिससे बहुत किसान इस योजना के लाभ लेने से वंचित रह जायेंगे |

यह भी पढ़ें   आम बजट-2017-18 मे किसानो के लिए

कहाँ दिया गया धरना

इसी मांग को लेकर मध्य प्रदेश के किसान सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं | मध्य प्रदेश के जिला होशंगाबाद में राष्ट्रीय किसान मजदुर संगठन के द्वारा विभिन्न मांगो को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया | इस धरना में किसानों ने केंद्र तथा राज्य सरकार से किसानों से किये जाने वाले वादे को निभाने की भी मांग किया है | संगठन के ब्लाक अध्यक्ष संतोष नागर ने बताया की संगठन ने एक दिन का धरना का आयोजन किया जिसके बाद कलेक्टर को प्रधानमन्त्री तथा मुख्य मंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया है |

इस ज्ञापन में किसानों को प्रति एकड़ 10,000 रुपया प्रति वर्ष की मांग के साथ – साथ किसानों को 52 वर्ष के बाद 10,000 रु. का पेंशन , न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सभी फसल की खरीदी की जाए , प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में खेत को इकाई माना जाए | संतोष नागर ने बताया की किसानों में लोन माफ़ी में बहुत सारे अनिमित्तायें है जिसे जल्द से जल्द सुधार करने की जरुरत है | इस धरने में जिले के किसान शामिल हुये |

यह भी पढ़ें   मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी: इन जगहों पर हो सकती है बेमौसम बारिश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here