किसान यहाँ से बनवाएं अपना पशु किसान क्रेडिट कार्ड

26
20856
pashu kisan credit card camp

पशु किसान क्रेडिट कार्ड कैम्पों का आयोजन

देश भर में पशुपालन क्षेत्र में पूँजी निवेश की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए सरकार द्वारा किसानों एवं पशुपालकों को कम ब्याज दरों पर किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत ऋण दिया जाता है| इसी तर्ज पर हरियाणा राज्य सरकार किसानों को पशु पालन के लिए ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना चला रही है | अधिक से अधिक किसानों एवं पशुपालकों को पशु किसान क्रेडिट कार्ड देने के लिए राज्य के पशुपालन विभाग की ओर से सभी जिलों में पशु किसान क्रेडिट कैंप आयोजित किए जाएंगे |

प्रत्येक पशु अस्पताल में लगाए जाएंगे कैंप

पशुपालन एवं डेयरी विभाग के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि किसानों को सरकार की योजनाओं का लाभ देने के उद्देश्य से सभी जिलों में प्रत्येक पशु अस्पताल में पशु किसान क्रेडिट कैंप आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने किसानों का आह्वान किया कि वे अपने नजदीकी पशु स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर पशु किसान क्रेडिट योजना का लाभ उठाएं तथा अपने आसपास के लोगों को इन योजनाओं बारे जानकारी दें।

यह भी पढ़ें   किसानों को जल्द दी जाएगी सोलर पम्प की सब्सिडी

पशु किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज

इच्छुक किसानों को पशु किसान क्रेडिट बनवाने के लिए बैंक प्राफार्मा अनुसार आवेदन फार्म, केवाईसी पहचान के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी आदि, हाइपोथैकेशन करार व आवश्यक अन्य दस्तावेज साथ लाने होंगे।

4 प्रतिशत ब्याज पर दिया जाता है 3 लाख रुपये तक का लोन

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि योजना के तहत गाय, भैंस, भेड़-बकरी और मुर्गी पालन के लिए अधिकतम 3 लाख रुपए तक का ऋण दिया जाता है। पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत पहले यह राशि किस्तों में दी जाती थी जबकि अब यह राशि एकमुश्त दी जाएगी। लाभार्थी यदि यह राशि एक वर्ष के अंदर जमा कर देता है तो उसे सिर्फ 4 प्रतिशत ब्याज ही देना होगा |

पशुओं के अनुसार कितना लोन दिया जाता हैं ?

पशु किसान क्रेडिट कार्ड पशुओं की संख्या के अनुसार जारी किया जाता है | जिसमें एक गाय के लिए 40,783 रूपए, भैंस के लिए 60,249 रुपए, भेड़-बकरी के लिए 4,063, सुअर के लिए 16,337 रूपए, मुर्गी (अंडा देने वाली के लिए) 720 रूपए तथा मुर्गी ब्रायलर के लिए 161 रूपए का ऋण दिया जाएगा । योजना के तहत गाय-भैंस के अलावा भेड़-बकरी, सुअर व पोल्ट्री फार्म के लिए बगैर गारंटी के 1 लाख 60 हजार रुपए तक के ऋण का प्रावधान किया गया है । 1 लाख 60 हजार रूपये तक बिना गारंटी के तथा गांरटी के साथ 3 लाख रूपये तक ऋण मुहैया किया जायेगा |

यह भी पढ़ें   बड़ी खबर: प्रधानमंत्री मोदी ने किया तीनों कृषि कानून वापस लेने का ऐलान

26 COMMENTS

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • जी सर बन जायेगा | अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या बैंक में सम्पर्क करें |

    • सर प्रोजेक्ट बनाएं जहाँ आप पशुपालन करना चाहते हैं उस स्थान एवं उसमें आने वाले खर्च एवं उससे होने वाली आय की जानकारी दें | अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिला पशुपालन विभाग में सम्पर्क कर आवेदन करें |

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • सर अपने ब्लॉक या जिले के पशु चिकित्सालय में सम्पर्क करें |

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • सर पशु पालन के लिए प्रोजेक्ट बनाएं, जिसमें पशु पालन पर आने वाले खर्च एवं उससे होने वाली आय की पूरी जानकारी दें | अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय में सम्पर्क कर आवें करें प्रोजेक्ट अप्रूव होने पर बैंक से लोन हेतु आवेदन करें |

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • सर आप इसके लिए सबसे पहले प्रोजेक्ट बनाएं | प्रोजेक्ट में आप कहाँ एवं किस स्तर का फार्म खोलना चाहते हैं एवं उसमें कितनी लागत आएगी एवं कितनी आय होने की सम्भावना है इसकी विस्तृत जानकारी दें | इसके बाद आप सब्सिडी के लिए अपने यहाँ के सरकारी पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग में सम्पर्क कर सब्सिडी के लिए आवेदन करें | प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाने पर आप बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं |

    • सर बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करें यदि यदि आपके पास पहले से पशु हैं तो जिस दुग्ध संघ या सहकारी समिति को दूध बेच रहे हैं वहां से सम्पर्क कर किसान क्रेडिट कार्ड के लिए कहें |

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.