धान की सीधी बिजाई करने वाले किसानों को दिया जाएगा 1500 रुपए प्रति एकड़ का अनुदान

0
4522
subsidy on paddy farming

धान की सीधी बिजाई करने पर दिया जाएगा अनुदान

देश में खरीफ फसलों में सबसे महत्वपूर्ण फसल धान है, इसकी खेती मई माह से शुरू हो जाती है | धान की खेती में अधिक पानी की जरुरत होती है जिसके कारण लगातार भूमिगत जलस्तर नीचे जाता जा रहा है। गिरते भूमिगत जलस्तर को रोकने के लिए राज्य सरकारों के द्वारा कई कदम उठाए गए हैं। इसमें कुछ राज्य सरकारें किसानों को धान की खेती छोड़ अन्य फसलों की खेती करने पर अनुदान देती है तो वहीं कुछ राज्य सरकारें धान की खेती सीधे बिजाई कर करने पर सरकार ज़ोर दे रही है ताकि पानी की खपत को कम किया जा सके। इस कड़ी में पंजाब सरकार ने धान की सीधी बिजाई करने वाले किसानों को अनुदान राशि देने का फैसला लिया है। 

पंजाब के मुख्यमंत्री श्री भगवंत मान ने आज किसानों के लिए एक बड़ी घोषणा की है। उन्होंने कहा कि आज आपकी सरकार ने धान की सीधी उपजाई करने वाले हर किसान को 1500 रुपए प्रति एकड़ सहायता देने का फैसला किया है। उन्होंने किसानों से अपील की है कि अपने दोस्तों, रिश्तेदारों को धान की सीधी उपजाई करने के लिए प्रेरित करें। इससे धान की उपज भी बढ़ेगी और पानी की भी बचत होगी।

यह भी पढ़ें   इन ज़िलों के किसानों को दिया गया वर्ष 2021 में अधिक बारिश एवं ओलावृष्टि से हुए फसल नुकसान मुआवजा

इन किसानों को दिया जाएगा धान की खेती पर अनुदान

धान की बुवाई दो प्रकार से की जा सकती है पहला सीधी बिजाई जिसके तहत किसान धान के बीज को सीधे खेत में छिड़काव करके या सीड ड्रिल से बोते हैं | दूसरा धान की पहले नर्सरी तैयार करते हैं उसके बाद खेत में बुवाई करते हैं | नर्सरी तैयार करके बुवाई करने पर धान की खेती में अधिक पानी की जरूरत होती है | पंजाब सरकार धान की खेती में कम पानी में करने के लिए धान की सीधी बुआई करने वाले किसानों 1500 रुपए प्रति एकड़ का अनुदान देगी। 

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.