इन फसलों को समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए 14 मार्च से पहले पंजीयन करवाएं

1874
फसल पंजीयन मध्यप्रदेश

समर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए पंजीयन

केंद्र सरकार के द्वारा जारी न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ सभी किसानों को मिल सके इसके लिए देश के सभी किसानों को अपने राज्य में पंजीयन कराना जरुरी है | इसके लिए अलग – अलग राज्य सरकार ने अपने किसानों के लिए पंजीयन की तारीख निर्धारित करती है | जिसके अनुसार इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को पंजीयन कराना जरुरी है |

अभी तक हुए पंजीयन

इस वर्ष रबी फसलों की न्यूनतम समर्थन मूल्य की खरीदी के लिए पंजीयन की शुरुआत की गई  है | इसके तहत मध्य प्रदेश सरकार द्वारा रबी फसलों का समर्थन मूल्य पर विक्रय के लिए प्रारंभ की गई पंजीयन प्रणाली में अभी तक 12 लाख किसान ने पंजीयन कराया है | किसानों की रूचि के कारण पंजीयन की अंतिम तिथि बढाकर 14 मार्च कर दी गई है |

रबी फसलों के विक्रय के लिये पंजीयन के लिये 2801 केंद्र बनाये गये है | केन्द्रों पर 28 फरवरी तक 11 लाख 97 हजार किसानों द्वारा विभिन्न फसलों के लिये पंजीयन करवाया गया है | गेंहू के लिये 11 लाख 9 हजार, चना के लिये 3 लाख 3 हजार , मसूर के लिए 63 हजार 500 तथा सरसों के लिये 11 हजार से अधिक किसानों ने पंजीयन करवाया है |

यह भी पढ़ें   बाढ़ एवं कीट-रोगों से हुए नुकसान का किसानों को दिया जायेगा 4,000 करोड़ रुपये का मुआवजा

पंजीयन हेतु आवश्यक दस्तावेज

पंजीयन के लिए कौन – कौन से दस्तावेज लगेगें ? किसान को पंजीयन सेंटर जाने से पहले निम्नलिखित दस्तावेज लेकर जाना होगा |

  • समग्र सदस्य आई.डी.
  • आधार कार्ड
  • ऋण पुस्तिका
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर (जो बैंक खाते से जुडा हो)

किसान समाधान सभी किसानों से अपील करता है की अपने – अपने राज्यों में न्यूनतम समर्थन मूल्य के लाभ के लिए पंजीयन जरुर करायें |

हरियाणा समर्थन मूल्य पर किसान अपनी फसल बेचने के लिए पंजीकरण हेतु क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.