DAP एवं अन्य रासायनिक खादों के दामों में हुई वृद्धि को लेकर छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री ने कही यह बात

0
127
dap and other fertilizers price 2021

DAP एवं अन्य रासायनिक खादों के दामों में वृद्धि

केंद्र सरकार के स्वामित्व वाली कंपनी IFFCO के रासायनिक खाद (उर्वरक) के मूल्य में वृद्धि की खबरें पिछले माह मीडिया में आई थी, जिसे लेकर देश भर में भारी विवाद हुआ था | जिस पर iffco तथा केंद्र सरकार की तरफ से बयान जारी करके बताया गया था की खाद के पैकेट पर लिखा मूल्य किसानों के लिए नहीं है तथा किसानों को पुरानी दरों पर ही रासायनिक उर्वरक दिया जायेगा | दूसरी तरफ देश भर में निजी कंपनियों के द्वारा पहले ही रासायनिक उर्वरकों के मूल्य में वृद्धि कर दी गई थी |

जब इफ्को iffco के प्रबंध निदेशक डॉ. यू. एस. अवस्थी ने यह बताया था की उसके पास पर्याप्त स्टाक पहले से ही मौजूद है, जिससे मूल्य वृद्धि करने की जरुरत नहीं है | लेकिन Iffco ने बात साफ नहीं की थी की जब रासायनिक खादों का नया स्टॉक आएगा उसमें मूल्य वृद्धि की जाएगी या नहीं इस बात पर असमंजस बना हुआ था |

छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री ने DAP खाद के बढ़ते दामों को लेकर जताई चिंता

छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री श्री रविंद्र चौबे ने रासायनिक उर्वरकों में, विशेषकर डीएपी के दाम में प्रति बोरी लगभग 700 रुपये की वृद्धि किए जाने पर चिंता जताई है । उन्होंने भारत सरकार के केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री से किसानों के हितों की रक्षा के लिए रासायनिक उर्वरक कंपनियों की इस मनमानी और बेतहाशा मूल्य वृद्धि पर रोक लगाए जाने का आग्रह किया है । कृषि मंत्री ने कहा कि बीते एक साल से कोरोना महामारी के चलते आम लोगों के साथ–साथ किसान परेशान हैं | ऐसी स्थिति में डीएपी सहित अन्य रासायनिक उर्वरकों के दामों में वृद्धि के चलते किसानों पर दोहरी मार पड़ेगी और खरीफ सीजन के लिए खाद खरीदने में असहाय हो जायेंगे | उन्होंने कहा कि इससे खेती की लागत बढ़ जाएगी इसलिए केंद्र सरकार से कोरोना संकटकाल में किसानों को राहत देने के लिए रासायनिक उर्वरकों के दामों में हुई वृद्धि को वापस लिए जाने का आग्रह किया है।

यह भी पढ़ें   पीएम किसान योजना में कैसे देखें अपना नाम,क्या है हेल्पलाइन नंबर ?

कृषि मंत्री के अनुसार DAP एवं अन्य रासायनिक खादों के कीमत में की गई इतनी वृद्धि

मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा की रासायनिक खाद डीएपी के मूल्य में लगभग 58% की एकाएक वृद्धि से किसान हैरान है । अब यह खाद किसानों को 1900 रुपए प्रति बोरी में क्रय करनी होगी। उन्होंने कहा कि वर्ष 2020 खरीफ सीजन में डीएपी खाद किसानों को 1150 रुपए प्रति बोरी की दर से तथा रबी सीजन 2020 – 21 में 1200 रुपये प्रति बोरी की दर से प्रदाय की गई थी । इसी तरह रासायनिक खाद एनपीके के दाम में भी प्रति बोरी 565 रूपए की वृद्धि की गई है । अब यह खाद किसानों को 1185 रुपए प्रति बोरी के स्थान पर 1747 रुपये प्रति बोरी देकर खरीदना होगा।

सिंगल सुपर फास्फेट के सभी प्रकार के खादों के दाम में प्रति बोरी लगभग 36 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। रासायनिक खाद एमओपी के दाम में भी प्रति बोरी 150 रुपए की वृद्धि की गई है। इसका दाम 850 रुपये प्रति बोरी से बढ़ाकर 1000 रुपये प्रति बोरी कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें   80 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर राज्य में खोले जाएंगे 100 कस्टम हायरिंग केन्द्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here