गन्ना किसानों को 5 जुलाई तक किया जाएगा बकाया राशि का भुगतान

344
ganna kharid ka bhugtan

गन्ना बकाया राशि का भुगतान

गन्ना किसानों को उपज बेचने के बाद लंबित भुगतान के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता है। कभी–कभी किसानों को एक वर्ष से ज़्यादा का इंतजार करना पड़ता है। ऐसे में हरियाणा राज्य सरकार राज्य के किसानों को गन्ने का लम्बित भुगतान करने जा रही है। हरियाणा सरकार किसानों को वर्ष 2021–22 के गन्ना बकाया राशि का भुगतान किसानों को करने जा रही है |

पहले काफी किसानों को गन्ना का भुगतान कर दिया गया है लेकिन शेष किसानों को जुलाई माह में भुगतान करने का फैसला लिया गया है | इसके लिए राज्य सरकार ने वर्ष 2021–22 के गन्ना भुगतान के लिए मई माह में 78.92 करोड़ रूपये का सब्सिडी जारी कर दी है। 

किसानों को कितना भुगतान किया जाएगा ?

हरियाणा के गन्ना किसानों को बकाया का भुगतान किया जाना है, जिसमें राज्य में किसानों का चीनी मीलों पर कुल 314 करोड़ रूपये बकाया है | इसके लिए राज्य सहकारिता मंत्रालय ने चीनी मीलों को मई माह में 78.92 करोड़ रूपये का सब्सिडी जारी कर दी है | इसके अलावा, निजी मीलों को लगभग 57 करोड़ रूपये की सब्सिडी दी गई है, जिसमें सरस्वती चीनी मिल, यमुनानगर को 29.28 करोड़ रूपये, पिकाडली एग्रो इंडस्ट्रीज लिमिटेड, भादसों को 12.84 करोड़ रूपये, नारायणगढ़ चीनी मिल को 8.60 करोड़ रूपये और असंध चीनी मिल को 6.39 करोड़ रूपये दिया जाना शामिल है |

यह भी पढ़ें   राज्य में कपास उत्पादन बढ़ाने के लिए सरकार ने की 60 लाख बीटी कपास बीज की व्यवस्था

नारायणगढ़ चीनी मिल लिमिटेड द्वारा 2021–22 सीजन के लिए किसानों को 172.69 करोड़ रूपये का भुगतान किया जा चुका है। शेष 59.15 करोड़ रूपये का भुगतान भी जल्द किया जाएगा।

किसानों को बकाया कब किया जाएगा ?

हरियाणा के मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने कहा कि सभी सहकारी चीनी मिलों की ओर से लगभग 314 करोड़ रुपये की बकाया राशि का भुगतान 5 जुलाई 2022 तक कर दिया जाएगा। इसी प्रकार, निजी मिलें भी बकाया राशि का भुगतान जल्द करेंगी।

पिछला लेखकिसान अधिक पैदावार के लिए लगाएँ धान की नई विकसित किस्म स्वर्ण शक्ति
अगला लेख149 लाख फसल बीमा पॉलिसी धारक किसानों को किया गया 15 हजार 800 करोड़ रुपए का भुगतान

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.