किसान रबी सीजन में फसल के लिए ऑनलाइन लोन लेने हेतु आवेदन करें

0
12237
kheti ke liye online loan

खेती के लिए फसली ऋण के लिये ऑनलाइन पंजीयन

अभी तक किसान कृषि लोन प्राप्त करने के लिए बैंकों को चक्कर लगाने पड़ते थे | इसमें समय के साथ पैसा भी ज्यादा लगता था | कभी – कभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड बनाने में रिश्वत देनी पड़ती थी | इसके बाबजूद भी सभी किसानों को लोन प्राप्त नहीं हो पाता था | इन सभी से छुटकारा पाने के लिए किसानों को आनलाइन आवेदन करने की सुविधा दी जा रही है | राजस्थान ऑनलाइन आवेदन लोन वितरण करने वाला पहला राज्य बना है | खरीफ फसलों के लिए किसान पहले ही ऑनलाइन लोन ले चुके हैं अब रबी फसलों के लिए भी नए किसान एवं जो किसान लोन ले चुके हैं आवेदन कर सकते हैं|

कितने किसानों को मिलेगा ऑनलाइन लोन

वर्ष 2019-20 में 10 लाख नये किसानों को सहकारी फसली ऋण से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है जिसमें से 5 लाख नये किसानों को खरीफ सीजन में सहकारी फसली ऋण दिया जा चुका है तथा शेष 5 लाख किसान रबी सीजन में फसली ऋण से लाभान्वित करने का लक्ष्य सरकार ने रखा है |  रबी सीजन में एक अक्टूबर से फसली ऋण का वितरण प्रारम्भ है तथा 31 मार्च 2020 तक 6 हजार करोड़ रूपये का फसली ऋण किसानों को मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है इस संबंध में जिलेवार टारगेट सहकारी बैंकों को दिये गये है यदि किसी किसान ने खरीफ की सीजन के लिये अधिकतम साख सीमा स्वीकृत कराई है उसे खरीफ 2020 में फसली ऋण प्रदान किया जाएगा। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज योजना का अधिकतम लाभ मिले यह सुनिश्चत किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें   एक बार फिर हो सकता है फसलों पर टिड्डी कीटों का हमला

लोन के लिए आवेदन कैसे करें ?

 फसली ऋण के लिये किसान कभी भी ऑनलाइन पंजीयन करा सकता है । किसान को समिति या ई – मित्र केंद्र पर जाकर आनलाईन पंजीयन करना होगा | पंजीयन बायोमेट्रिक सत्यापन के आधार पर किया जाएगा | इसके बाद सदस्य किसानों को फसली ऋण डिजिटल मेंबर रजिस्टर (डीएमआर) के माध्यम से वितरित किया जाएगा | किसान से आवेदन प्राप्त करने की सम्पूर्ण प्रक्रिया को आनलाइन किया है |

किसान खरीफ फसल में लिया गया लोन कैसे जमा करें ?

खरीफ के फसली ऋण को किसान पैक्स या लेम्प्स पर एफआईजी के माध्यम से फसली ऋण की राशि जमा कराने का विकल्प दिया गया है इसके तहत वह किसी भी रूपे कार्ड से माइक्रो एटीएम कार्ड से राशि जमा करवा सकता है या आधार आधारित भुगतान पद्धति के माध्यम से अगूंठा निशानी के पश्चात राशि जमा करा सकता है। इसके अतिरिक्त किसान को संबंधित बैंक शाखा में वाउचर के माध्यम से भी फसली ऋण की राशि नकद जमा कराने का विकल्प भी दिया गया है।

यह भी पढ़ें   जानें पीएम-किसान योजना में राज्यवार अभी तक कितने किसानों को कितनी राशि दी गई

ऑनलाइन फसल हेतु लोन योजना की पूरी जानकारी के लिए क्लिक करें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here