आत्मनिर्भर भारत: कृषि उत्पाद सीधे किसानों से खरीदने के लिए 1 लाख करोड़ रूपये की फार्म गेट योजना

5
27283
farm gate yojna rahat package

कृषि द्वार (Farm Gate) योजना हेतु 1 लाख करोड़ रुपये का राहत पैकेज

कविड-19 महामारी को रोकने हेतु चल रहे लॉक डाउन से हुए पूरे देश को हुए नुकसान से बचाने हेतु माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने 12 मई 2020 को भारत की जीडीपी के 10% के बराबर 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष आर्थिक और व्यापक पैकेज की घोषणा की । इस पैकेज में सभी वर्ग के लोगों को उबारने के लिए अलग-अलग योजनाओं की घोषणा की वित्त मंत्री श्री निर्मला सीतारमण के द्वारा की जा रही है | इस राहत में पेकेज में किसानों के लिए भी कई योजनायें शुरू की गई है जिससे किसानों को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया जायेगा | आत्मनिर्भर भारत के तहत किसानों के लिए फार्म-गेट अवसंरचना के लिए 1 लाख करोड़ रुपये का कृषि अवसंरचना कोष बनाने की घोषणा की गई है |

कृषि द्वार (फार्म-गेट) आधारभूत ढांचे पर केन्द्रित 1 लाख करोड़ रुपये देने की घोषणा

फार्म-गेट और एकत्रीकरण बिंदुओं (प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों, किसान उत्पादक संगठनों, कृषि उद्यमियों, स्टार्ट-अप आदि) पर मौजूद कृषि आधारभूत ढांचा परियोजनाओं को वित्तपोषण के लिए 1,00,000 करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। किफायती और वित्तीय रूप से व्यवहार्य कृषि बाद प्रबंधन आधारभूत ढांचे से फार्म-गेट और एकत्रीकरण बिंदु के विकास के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। इस कोष की तत्काल स्थापना की जाएगी।

यह भी पढ़ें   कुसुम योजना के तहत सोलर प्लांट लगाने के लिए किसान 15 मार्च तक कर सकेगें आवेदन

फार्म गेट से किसानों को लाभ

किसानों को कृषि उत्पाद का सही मूल्य दिलवाने के लिए किसानों से सीधे खरीदी करने कि योजना पर बल दिया जा रहा है | इसके अंतर्गत खरीदने के लिए आस–पास के क्षेत्रों में पर्याप्त कोल्ड चेन बनाये जायेंगे | इसके साथ ही बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए 1 लाख करोड़ रूपये कि वित्तीय सुविधा प्रदान कि जायेगी | इसके अंतर्गत प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों, किसान उत्पादक संगठनों, कृषि उद्यमियों, स्टार्ट–अप आदि को शामिल किया गया है | इसके अलावा सहित भंडारण बनाने के लिए 50 प्रतिशत कि सब्सिडी दिया जायेगा | साथ ही सरप्लस (अतिरिक्त उत्पाद) से कमी वाले बाजारों तक ढुलाई पर 50 प्रतिशत सब्सिडी दिया जायेगा |

इन्फ्रास्ट्रक्चर लोजिस्टिक्स और क्षमता निर्माण को मजबूत करने के लिए उपाय

  • कृषि उत्पाद सीधे किसान से खरीदने के लिए आसपस के क्षेत्र में पर्याप्त कोल्ड चेन और फसल के बाद उसके प्रबंधन के लिए बुनियादी ढाँचे की कमी से वस्तु के मूल्य में कमी आती है |
  • लघु अवधि के फसल ऋणों पर ध्यान केन्द्रित किया गया है जबकि दीर्घकालिक कृषि बुनियादी ढाँचे में अक्सर पर्याप्त निवेश नहीं होता है |
  • कृषि उत्पाद सीधे किसान से खरीदने के लिए आसपास के क्षेत्र और संग्रह बिन्दुओं पर (प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों, किसान उत्पादक संगठनों, कृषि उद्यमियों, स्टार्ट-अप आदि) पर मौजूद कृषि आधारभूत ढांचा परियोजनाओं को वित्तपोषण के लिए 1,00,000 करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी ।
  • उत्पाद सीधे किसान से खरीदने के लिए आसपास के क्षेत्र और संग्रह बिंदु, किफायती और आर्थिक रूप से व्यवहार्य के बाद उसके प्रबंधन के लिए बुनियादी ढांचे के विकास को प्रोत्सहन दिया जायेगा |
  • यह फंड तुरंत ही निर्मित किया जायेगा |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

5 COMMENTS

  1. Sir….. I have Land and we are depended on rain only. We need to bore on this farming land and want to do start Organic Farming. What is the best idea on it and what is the benefit and subsidy from state government and central government. Please give us best idea on above said.

    Thanks

    • अपने जिले के कृषि विभाग या सिंचाई विभाग में सम्पर्क करें |

    • जी अपने ब्लाक या जिले के पशु चिकित्सालय या पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here